NDTV Khabar

60 हजार गांवों को 'स्टार्ट अप' के तहत जोडेगी सरकार : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

योगी ने स्थानीय भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में आयोजित ‘स्टार्ट-अप मास्टर क्लास’ कार्यक्रम में कहा, 'राज्य सरकार प्रदेश के 60 हजार गांवों को स्टार्ट अप के तहत जोडेगी .

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
60 हजार गांवों को 'स्टार्ट अप' के तहत जोडेगी सरकार : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, कुम्भ-2019 के पहले प्रदूषण को दूर करना है.
  2. कहा, 60 हजार गांवों को 'स्टार्ट-अप' के तहत जोड़ेगी राज्य सरकार.
  3. इससे सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी मिलेगी.
कानपुर:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के 60 हजार गांवों को 'स्टार्ट-अप' के तहत जोड़ेगी. योगी ने स्थानीय भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में आयोजित ‘स्टार्ट-अप मास्टर क्लास’ कार्यक्रम में कहा, 'राज्य सरकार प्रदेश के 60 हजार गांवों को स्टार्ट अप के तहत जोडेगी . इन गांवों में तकनीकी पहुंचाई जाएगी, जिससे ग्रामीणों को घर बैठे रोजगार मिल सकेगा. सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी मिलेगी. ये 60 हजार गांव पूरी तरह से तकनीकी रूप से दक्ष होंगे.'

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने आईआईटी के प्रोफेसरों, वैज्ञानिकों और छात्र छात्राओं से विचार-विमर्श किया. उन्होंने ग्रामीण विद्युतीकरण, स्वच्छता, प्रदूषण, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि पर आधारित स्टार्ट-अप के प्रस्तुतिकरण देखे.


यह भी पढ़ें : यूपी के कासगंज में भड़की हिंसा के बाद तनाव बरकरार, 49 लोग गिरफ्तार, इंटरनेट सेवा ठप

उन्होंने आईआईटी के छात्रों से गांवों में जाकर तकनीकी उन्नयन के माध्यम से लोगों को लाभ पहुंचाने का आह्वान किया. योगी ने कहा कि आईआईटी के छात्र तकनीक के जरिए गांव, कस्बों और शहरों के विकास में अपना योगदान दें. उन्होंने आईआईटी के छात्रों से देश में रहकर ही तकनीक के माध्यम से विकास में योगदान करने की बात कही. मुख्यमंत्री ने कानपुर में गंगा के प्रदूषण की चर्चा करते हुए कहा, 'यहीं से होकर गंगा जी प्रयागराज गई हैं. कुम्भ-2019 के पहले प्रदूषण को दूर करना है.'

टिप्पणियां

VIDEO : कानून व्यवस्था पर योगी कटघरे में​

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement