NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश में रिपोर्टिंग के लिए पहुंचे पत्रकार की रेलवे पुलिस ने कर दी बुरी तरह पिटाई, वीडियो हुआ वायरल

पत्रकार को पीटे जाने के इस मामले में यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने तत्काल प्रभाव से शामली जीआरपी एसएचओ राकेश कुमार और कांस्टेबल संजय पवार को निलंबित कर दिया गया है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. रेलवे पुलिस ने की पत्रकार की पिटाई
  2. उत्तर प्रदेश के शामली का मामला
  3. वीडियो वायरल होने पर SHO और कांस्टेबल सस्पेंड
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के शामली से एक पत्रकार को पीटे जाने का मामला सामने आया है. यहां एक निजी न्यूज चैनल न्यूज 24  में  स्ट्रिंगर अमित शर्मा डीरेल हुई मालगाड़ी को रिपोर्ट करने पहुंचे थे तभी जीआरपी पुलिसर्मियों ने उनकी बुरी तरह पिटाई कर दी.  अमित जब अपने मोबाइल से फुटेज ले रहे थे तभी जीआरपी पुलिस इंस्पेक्टर ने उनका मोबाइल छीन लिया और उनके साथ मारपीट की. इसके बाद अमित को रात भर थाने में बैठाए रखा गया. साथी पत्रकारों के धरने के बाद सुबह उन्हें  छोड़ा गया. अमित को पीटे जाने का भी एक वीडियो सामने आया है, जिसमें पुलिसकर्मी उन्हें घूंसों से मारते हुए दिख रहा है. 

पत्रकार अमित शर्मा ने बताया, ''वे सादे कपड़ों में थे.  एक ने उन्हें मारा तो कैमरा गिर गया . जब उसे उठाने लगा तो उन्होंने मुझे मारा और गालियां दीं. मुझे लॉकअप में बंद कर दिया गया, फोन छीन लिया गया और उन्होंने मेरे मुंह में पेशाब कर दिया." 


यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ पोस्ट करना पड़ा पत्रकार को भारी, पुलिस ने दर्ज किया मामला

पत्रकार को पीटे जाने के इस मामले में यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने तत्काल प्रभाव से शामली जीआरपी एसएचओ राकेश कुमार और कांस्टेबल संजय पवार को निलंबित कर दिया गया है. 

दिल्ली में बदमाशों ने लूटपाट के इरादे से टीवी चैनल के कर्मचारियों पर चलाई गोली, बाल-बाल बचे

टिप्पणियां

बता दें शामली रेलवे विभाग की लापरवाही  के चलते धीमानपुरा रेलवे फाटक के पास मंगलवार रात करीब साढ़े आठ बजे ट्रेक शंटिग (ट्रेक बदलना) के दौरान मालगाड़ी के दो डिब्बे पटरी से उतर गए थे. मालगाड़ी के डिब्बे उतरने से जोरदार धमाका हुआ जिससे आसपास के यात्री डर गए. इस घटना में ट्रेक भी क्षतिग्रस्त हो गया और काफी देर तक रेल यातायात बाधित रहा. साथ ही दूसरा रेलवे फाटक बंद होने से सड़क यातायात भी बाधित हो गया. रेलवे के अधिकारी एवं इंजीनियरिंग विभाग की टीम देर रात तक मौके पर लगी रही. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement