NDTV Khabar

अयोध्या में ऐतिहासिक दीपावली मनाएंगे मुख्यमंत्री योगी, कुछ ऐसी है तैयारी

अयोध्या में इतिहास की सबसे बड़ी दीपावली मनाने की तैयारी चल रही है. बताया गया है कि जैसी दीपावली त्रेता युग में मनाई गई थी वैसी ही इस बार होगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अयोध्या में ऐतिहासिक दीपावली मनाएंगे मुख्यमंत्री योगी, कुछ ऐसी है तैयारी

अयोध्या में सरयू के घाटों पर दो लाख दीपकों से दीपदान किया जाएगा

खास बातें

  1. सरयू नदी के घाट पर जलाए जाएंगे दो लाख दीये
  2. हेलीकॉप्टर के द्वारा अयोध्या में उतरेंगे भगवान राम
  3. मुख्यमंत्री योगी खुद करेंगे भगवान राम का स्वागत

अयोध्या में इतिहास की सबसे बड़ी दीपावली मनाने की तैयारी चल रही है. बताया गया है कि जैसी दीपावली त्रेता युग
में मनाई गई थी वैसी ही इस बार होगी. भगवान राम लंका पर विजय हासिल कर पुष्पक विमान से अयोध्या आए थे.
लेकिन इस बार वो हेलीकॉप्टर से अयोध्या में उतरेंगे. और उनका स्वागत करेंगे योगी आदित्यनाथ. इस मौके पर राम
की पौड़ी पर 2 लाख दीप जलाए जाएंगे.

फैजाबाद के जिलाधिकारी डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि श्रीराम का अयोध्या में आगमन हुआ था तो उनके स्वागत के लिए प्रशासन ने व्यवस्था की हुई है. उनका हेलकॉप्टर से आगमन होगा. उनका स्वागत करते हुए मंच पर लाया जाएगा. इसके बाद रामकथा पार्क में उनकी आरती और अभिषेक का कार्यक्रम है. 
 

ayodhya

पढ़ें: अयोध्या में भगवान राम की सबसे बड़ी मूर्ति लगाने की तैयारी में योगी आदित्यनाथ, जानें- पूरा मामला

अयोध्या में सरयू का बड़ा धार्मिक महत्व है. योगी आदित्यनाथ यहां सरयू की आरती करेंगे. इसके लिए राम की पौड़ी के पास ख़ास तैयारियां की गई हैं. भगवान राम के अयोध्या आने के मौके पर यहां दो लाख दीपक जलाए जाएंगे. सरकार ने 60 कुम्हारों को दीये बनाने की जिम्मेदारी दी है. ये कुम्हार दिन-रात एक करके दीये बनाने में लगे हुए हैं. दीये बनाने वाले बबलू प्रजापति ने बताया कि बुधवार को मुख्यमंत्री आ रहे हैं. उनके कार्यक्रम के लिए 50-60 घर कुम्हारों के मिलकर तैयारी कर रहे हैं. ट्रालियों में भरकर दीपक भेजे जा रहे हैं. 


पढ़ें: दीपावली की पूर्व संध्या पर 12 हजार लीटर तेल से अयोध्या में जगमग होंगे 2.40 लाख दीये

इस बार दीपावली पर अयोध्या में खास रौनक है. बाजार सजे हुए हैं. सड़कों पर श्रद्धालुओं की भीड़ है. लोग भी इस खास दीपावली के इंतजार में हैं. इस त्योहार में तीन दिन तक अयोध्या की सड़कों पर मेला जैसा माहौल होता है. सड़कों पर दुकानें लगती हैं. आतिशबाजी, खील-बतासे, खिलौने और अन्य सजावटी सामान बिकता है. पटरी कारोबारियों को लगता है कि अयोध्या का विकास होना चाहिए. दुकानदारों का कहना है कि नेता आएं कोई बात नहीं, लेकिन सुरक्षा के नाम पर उन्हें नहीं हटाना चाहिए.

टिप्पणियां

VIDEO: 134 करोड़ से संवरेगी राम की नगरी
सियासत में ऐसे लोग भी हैं जिनका कहना है कि अयोध्या में दीपावली तो धूमधाम से मनानी ही चाहिए, लेकिन सरकार ये सब हिंदू वोट जुटाए रखने के लिए कर रही है. उधर, सरकार इस पर राजनीति से इनकार कर रही है.

सूबे के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा का कहना है कि आज से हजारों साल पहले ऐसा हुआ कि राजा स्वयं राम की अगुवानी करने गए थे. असत्य पर सत्य की विजय प्राप्त करने के लिए दीपावली मनाई गई. आज हम दीपावली मना रहे हैं तो आपत्ति क्यों हैं. उन्होंने कहा कि अयोध्या में संतों के साथ अगर संत दीपावली मना रहे हैं तो ये अच्छी परंपरा है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement