विधानसभा में योगी आदित्‍यनाथ बोले- हिन्‍दू होने पर गर्व, पर ईद नहीं मनाता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हिन्दू होने पर गर्व की अनुभूति होना कोई बुरी बात नहीं है. उन्‍होंने कहा कि हमें हिंदू होने पर गर्व है, लेकिन हम वैसे हिंदू नहीं हैं जो घर में जनेऊ धारण करें और बाहर निकलकर टोपी पहन लें. ऐसा वो लोग करते हैं, जिनके मन में पाप होता है. मैंने तब भी कहा था और आज भी गर्व के साथ कहता हूं कि मैं हिंदू हूं. मैं ईद नहीं मनाता. लेकिन, यदि कोई अपना त्योहार मनाएगा तो सरकार उसमें सहयोग करेगी और साथ ही सुरक्षा भी देगी.

विधानसभा में योगी आदित्‍यनाथ बोले- हिन्‍दू होने पर गर्व, पर ईद नहीं मनाता

सीएम योगी आदित्‍यनाथ यूपी विधानसभा में

खास बातें

  • हम वैसे हिंदू नहीं हैं जो घर में जनेऊ धारण करें
  • यदि कोई अपना त्योहार मनाएगा तो सरकार उसमें सहयोग करेगी
  • भाजपा जो अंदर है, वहीं बाहर है और वह 'पाखंड' नहीं कर सकती
लखनऊ :

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हिन्दू होने पर गर्व की अनुभूति होना कोई बुरी बात नहीं है. उन्‍होंने कहा कि हमें हिंदू होने पर गर्व है, लेकिन हम वैसे हिंदू नहीं हैं जो घर में जनेऊ धारण करें और बाहर निकलकर टोपी पहन लें. ऐसा वो लोग करते हैं, जिनके मन में पाप होता है. मैंने तब भी कहा था और आज भी गर्व के साथ कहता हूं कि मैं हिंदू हूं. मैं ईद नहीं मनाता. लेकिन, यदि कोई अपना त्योहार मनाएगा तो सरकार उसमें सहयोग करेगी और साथ ही सुरक्षा भी देगी.

सीएम योगी के सामने ही उनके मंत्री ने मुलायम को रावण और मायावती को कहा शूर्पणखा

योगी ने कहा कि भाजपा जो अंदर है, वहीं बाहर है और वह 'पाखंड' नहीं कर सकती.विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव की चर्चा के जवाब में योगी ने कहा, 'मुझसे एक पत्रकार ने पूछा था कि आपने दीपोत्सव अयोध्या में मनाया, होली मथुरा में मनायी ... ईद कहां मनाएंगे. मैंने कहा कि मैं ईद नहीं मना पाऊंगा. मैं अपनी संस्कृति और परंपरा के अनुरूप ईद नहीं मनाता. लेकिन शांतिपूर्वक कोई ईद मनाएगा तो सरकार सहयोग करेगी और सुरक्षा देगी.’’ उन्होंने सपा-बसपा सहित विपक्षी दलों पर आक्रामक तेवर अपनाते हुए कहा, 'अवसरवादी बनकर घर में बैठकर जनेऊ लगाएंगे और बाहर जाएंगे तो टोपी लगाएंगे. ये कौन सा पाखंड है. ये पाखंड भाजपा नहीं कर सकती, जो अंदर है वहीं बाहर है.’’ योगी ने कहा, ‘‘हिन्दू होने पर गर्व की अनुभूति होना कोई बुरी बात नहीं है. हमें भारत की परंपरा और विरासत पर गौरव की अनुभूति है. तीर्थाटन के साथ-साथ पर्यटन को बढावा देने के लिए भी हमने इसका उपयोग किया है.’’ 

उन्होंने कहा,‘‘ हमारे पास धार्मिक पर्यटन की प्रचुर संभावनाएं हैं. काशी हमारे पास है. अयोध्या पर कौन गौरव की अनुभूति नहीं कर सकता. सपा-बसपा की सरकारें अयोध्या को बिजली नहीं देते थे. काशी में काम नहीं करने देते थे. मथुरा में विकास योजनाओं को अवरूद्ध कर दिया था. अयोध्या में रामलला की परंपरा, चित्रकूट में कीर्तन की परंपरा बंद करा दी थी.

यूपी लोकसभा उपचुनाव में सपा-बसपा गठजोड़ सांप-छुछुंदर की दोस्‍ती जैसा : योगी आदित्‍यनाथ

योगी ने कहा कि देश में तीर्थाटन एवं पर्यटन की ढेरों संभावनाएं उत्तर प्रदेश में हैं. पर्यटन और तीर्थाटन की जितनी संभावना उत्तर प्रदेश में है, इसमें दस गुना वृद्धि की जा सकती है. 'इको टूरिज्म, हैरिटेज टूरिज्म' में भी उत्तर प्रदेश समृद्ध है. उन्होंने कहा कि सपा-बसपा ने राज्य की संस्थाओं को .. चाहे परपंरागत उत्पाद हों, हस्तशिल्प हो या पर्यटन की संभावना हो, उनकी भ्रूणहत्या करने का प्रयास किया है्. उत्तर प्रदेश को बदनाम किया है लेकिन पिछले 11 महीने में अवधारणा बदली है.

योगी ने कहा, ‘‘तिरंगे की आन बान शान के लिए देश का नागरिक अपने आपको समर्पित करता है लेकिन कासगंज में जो हुआ, एक निर्दोष चंदन गुप्ता की निर्मम हत्या हुई इसलिए सरकार ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटेगी. किसी ऐसे शख्स को बख्शेंगे नहीं, जो तिरंगा यात्रा पर जबरन रोक लगाने का काम करेगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: सीएम हाउस पर सेल्‍फी लेना मना है!

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार नया पाठयक्रम देने जा रही है। इसमें संत रविदास, वाल्मीकि, अंबेडकर, सुहेलदेव, झलकारी बाई, स्वाधीनता के लिए लडने वालों को समाहित किया जायेगा. उन्होंने कहा, ‘‘हमने स्कूल-कॉलेजों की छुट्टियां समाप्त कर महापुरूषों को पाठयक्रम का हिस्सा बनाया है ताकि विद्यार्थी उनके व्यक्तित्व और कृतित्व से प्रेरणा पा सकें.’’