NDTV Khabar

उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस में बड़े बदलाव की आहट! 

बताया जा रहा है कि नई प्रदेश कांग्रेस कमेटी में हर एक व्यक्ति की ठोस ज़िम्मेदारी होगी और उसके जवाबदेही तय होगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस में बड़े बदलाव की आहट! 

उत्तर प्रदेश कांग्रेस में बड़े बदलाव कर सकती है प्रियंका गांधी

खास बातें

  1. नई प्रदेश कांग्रेस कमेटी में हर एक व्यक्ति की ठोस ज़िम्मेदारी होगी
  2. प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं से की मुलाकात
  3. पार्टी को मजबूती देने पर है जोर
नई दिल्ली:

उत्‍तर प्रदेश की महासचिव प्रियंका गांधी द्वारा लोकसभा चुनाव के बाद शुरू किए गए संगठन की 'बड़ी ओवरहॉलिंग' की प्रक्रिया अब लगभग अपने अंतिम चरण में पहुंच चुकी है. चंद दिनों के भीतर ही एक नई प्रदेश कांग्रेस कमेटी का गठन और गठन की प्रक्रिया घोषित की जाएगी. बताया जा रहा है कि नई प्रदेश कांग्रेस कमेटी में हर एक व्यक्ति की ठोस ज़िम्मेदारी होगी और उसके जवाबदेही तय होगी. इसके तुरंत बाद पूर्वी उत्तर प्रदेश नई जिला कमेटियों की घोषणा की जाएगी. इसी क्रम में जन-संगठनों, विभागों और प्रकोष्ठों में भी भारी बदलाव घोषित किए जाएंगे. संगठन की 'ओवरहॉलिंग' की यही प्रक्रिया पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी शुरू कर दी गई है. AICC सचिवों की टीम इस काम में लग गई है.

प्रियंका गांधी का हमला-  वित्त मंत्री को 'राजनीति' से ऊपर उठकर सच बोलने की जरूरत...


लोकसभा चुनाव के तत्काल बाद महासचिव प्रियंका गांधी ने पिछले तीन महीनों से सतत मीटिंगों का दौर जारी रखा. वे उत्‍तर प्रदेश के हजारों कार्यकर्ताओं और नेताओं से मिलीं. AICC सचिव एवं कुछ चुनिंदा नेताओं की चार टीमें प्रियंका गांधी के निर्देश पर जून महीने से ही हर जिले का दौरा करना शुरू किया. इन टीमों ने हर जिले में न्यूनतम 2-3 दिन रहकर मीटिंग्स और जांच पड़ताल की. ये भी तय किया गया कि पूरे उत्तर प्रदेश नें महिलाओं को अहम भूमिका दी जाएगी. हर ज़िले में उपाध्यक्ष महिला को ही बनाया जाएगा इसके अलावा एक अन्य टीम ने अनौपचारिक स्तर पर हर जिले के संगठन, कामकाज, सक्रियता और जमीनी स्थिति की जांच पड़ताल की.

प्रियंका गांधी ने रायबरेली में मोदी सरकार पर साधा निशाना, बोलीं- एक नया 'कम्पनीराज' लाना चाहती है BJP

प्रियंका गांधी पूर्वी उत्‍तर प्रदेश के संगठन के हर एक जिला अध्यक्ष, शहर अध्यक्ष, प्रत्याशी, और प्रभारी से मिली. उनकी बातें सुनीं और उन्हें अपने विचारों से अवगत कराया. प्रियंका गांधी पूरे उत्तर प्रदेश के सभी पूर्व अध्यक्षों, पूर्व नेता विधानमंडल, पूर्व मंत्रियों, पूर्व सांसदों, पूर्व विधायकों एवं वरिष्ठ नेताओं से मिली. वरिष्ठ नेताओं ने एक स्‍वर से प्रदेश कांग्रेस कमेटी को छोटा करने एवं युवा लोगों को मौका देने और संघर्षशील कार्यकर्ताओं के सामने लाने की बात कही. वरिष्ठ नेताओं ने प्रियंका गांधी द्वारा प्रदेश के संगठन में किए जा रहे बदलाव और आंदोलन के मुद्दों पर सहमति ज़ाहिर की. सभी बड़े फ़ैसलों पर उत्‍तर प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं से व्यापक चर्चा और उनकी सहमति से फैसले हो रहे हैं.

टिप्पणियां

पूर्व PM मनमोहन सिंह की SPG सुरक्षा हटाई गई, अब CRPF की सुरक्षा में रहेंगे

प्रदेश कमेटी में और जिला कमेटियों में सामाजिक संतुलन पर पूरा जोर दिया जा रहा है. हर वर्ग से प्रतिनिधित्व सुनिश्चित किए जा रहे हैं. गरीब-वंचित तबक़ों से और दलित-पिछड़े-अति पिछड़े वर्ग से नेताओं-कार्यकर्ताओं का पूरा सम्मान मिले ऐसी कोशिश की जा रही है. यही प्रक्रिया अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में शुरू की गई है. उत्तर प्रदेश में बड़े आंदोलन की रूपरेखा पर काम हो रहा है. प्रदेश कांग्रेस द्वारा किसानों के मुद्दे पर बड़ा आंदोलन खड़ा करने की तैयारी शुरू की जा रही है. प्रदेश कांग्रेस द्वारा इसी साल के भीतर एक करोड़ नई सदस्यता का लक्ष्य रखा गया है. प्रियंका गांधी के नेतृत्व में व्यापक जन-सम्पर्क और जन-आंदोलन की तैयारी पर योजनाबद्ध ढंग से काम भी जारी है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement