NDTV Khabar

आजम खान के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत तो समर्थन में उतरे मुलायम सिंह यादव, कहा- जरूरत पड़ी तो...

आज़म खान (Azam Khan) के खिलाफ मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी भूमि मामले से जुड़े केस दर्ज किए जाने पर पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने इसे साजिश करार दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आजम खान के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत तो समर्थन में उतरे मुलायम सिंह यादव, कहा- जरूरत पड़ी तो...

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव.

खास बातें

  1. आजम खान के समर्थन में आए सपा संरक्षक मुलायम सिंह
  2. मुलायम ने कार्यकर्ताओं से आंदोलन करने की अपील की
  3. आजम खान के खिलाफ दर्ज की गई है शिकायत
लखनऊ:

समाजवादी पार्टी (SP) के सांसद आज़म खान (Azam Khan) के खिलाफ मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी भूमि मामले से जुड़े केस दर्ज किए जाने पर पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने इसे साजिश करार दिया. मुलायम ने कहा कि यह आज़म खान के खिलाफ साज़िश है. 'मैं सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं से उनके समर्थन में सामने आने की अपील करता हूं.' सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने कार्यकर्ताओं से आजम खान पर हो रहे 'अन्याय' के खिलाफ आंदोलन खड़ा करने की अपील की. उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो वह इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात भी करेंगे.


यह भी पढ़ें: आजम खान की कम नहीं हो रहीं मुसीबतें, अब उनके रिसॉर्ट पर चला बुलडोजर

मुलायम सिंह यादव ने कहा कि आजम ने 'भीख' मांगकर चंदे से रामपुर में मुहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय बनाया और उसके निर्माण के लिए विधायक कोटे से मिला घर भी बेच दिया. वह आज भी पतली गली के एक छोटे से मकान में रहते हैं. यूनिवर्सिटी के निर्माण के लिए सैकड़ों बीघा जमीन खरीदने वाला इंसान डेढ़-दो बीघा जमीन के लिए बेइमानी नहीं कर सकता. दो बीघा जमीन के लिए उन पर 27 गंभीर धाराओं में आपराधिक मुकदमे लाद दिए गए हैं.

यह भी पढ़ें: ईद पर आजम खान ने रामपुरवासियों को लिखा भावुक पत्र, कहा- आसमान छूती हुई मजबूत शमां...

काफी अर्से बाद मीडिया को संबोधित कर रहे पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, 'हम उत्तर प्रदेश के सभी पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील करते हैं कि आजम खान के अपमान और अन्याय के खिलाफ तैयार हो जाएं और पूरे प्रदेश में आंदोलन खड़ा करें. हम खुद उस आंदोलन में आगे खड़े होंगे.' उन्होंने कहा कि आज वह सपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्यों और अन्य नेताओं से बात करके कल-परसों तक आंदोलन की तारीख घोषित करेंगे.

यह भी पढ़ें: आजम खान को महिला वार्ड में जबरन घुसने के आरोप में AMU से किया गया था निष्कासित, शिया धर्मगुरु का दावा

इस सवाल पर कि आजम के खिलाफ हो रही कार्रवाई को लेकर क्या वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे? इस पर मुलायम ने कहा, 'अभी तो मैंने सोचा नहीं है, लेकिन जरूरत होगी तो हम प्रधानमंत्री से जरूर मिलेंगे.' उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि कुछ भाजपा नेताओं का भी मानना है कि आजम के खिलाफ गलत हो रहा है, इससे हमारी पार्टी को नुकसान होगा. मुलायम ने कहा कि सरकार ने आवास बनाने के लिए पूर्व में जिन लोगों के कब्जे हटाये, अब वर्षों बाद उन्हीं अवैध कब्जेदारों की शिकायत पर सरकार ने आजम और सपा कार्यकर्ताओं पर लूट तथा डकैती के झूठे मुकदमे दर्ज करा दिए हैं. राजनैतिक प्रतिशोध का ऐसा भयावह रूप मैंने अपनी जिंदगी में पहले ना तो देखा और ना ही सुना था.

यह भी पढ़ें: क्या आजम खान गिरफ्तारी के डर से रामपुर नहीं आ रहे हैं? 

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि अपनी भाषा और विद्वता की वजह से आजम खान देश के नेता बन गए हैं. इसीलिए भाजपा को परेशानी हो गई है. मुलायम ने कहा, 'आजम हमारे संघर्ष के दिनों के साथी हैं. वह कुछ गलत काम नहीं कर सकते हैं. हम चाहते हैं कि आजम पर हो रहे अन्याय के खिलाफ मीडिया सहयोग करे. अब मीडिया के अलावा और कोई सहारा नहीं है.' गौरतलब है कि प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और रामपुर से मौजूदा सपा सांसद आजम खान के खिलाफ हाल जौहर विश्वविद्यालय के लिए गरीबों की जमीन छीनने और डकैती डालने समेत दर्जनों मुकदमे दर्ज किये गये हैं. 

VIDEO: जमीन कब्जा करने के लिए आजम खान पर केस दर्ज, सपाइयों ने किया विरोध



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement