NDTV Khabar

Kamlesh Tiwari Murder Case: पुलिस ने बरामद किया खून से सना चाकू, मिली 3 आरोपियों की ट्रांजिट रिमांड

कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) हत्याकांड में पुलिस को बड़ा सबूत मिला है. पुलिस ने रविवार को होटल के कमरे से खून से सना हुआ चाकू बरामद कर लिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Kamlesh Tiwari Murder Case: पुलिस ने बरामद किया खून से सना चाकू, मिली 3 आरोपियों की ट्रांजिट रिमांड

मिला खून से सना हुआ चाकू

खास बातें

  1. पुलिस ने बरामद किया खून से सना चाकू
  2. पुलिस ने खालसा होटल में छापा मारा था
  3. ट्रांजिट रिमांड रविवार को उत्तर प्रदेश पुलिस को मिली
यूपी:

कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) हत्याकांड में पुलिस को बड़ा सबूत मिला है. पुलिस ने रविवार को होटल के कमरे से खून से सना हुआ चाकू बरामद कर लिया. इससे पहले पुलिस ने दावा किया था कि होटल के इसी कमरे से उसने भगवा कपड़े और खून से सना तौलिया बरामद किया. पुलिस ने दो संदिग्धों की जानकारी मिलने पर खालसा होटल में छापा मारा था और कमरे को सील कर दिया था. पुलिस का यह भी दावा है कि उसने अपराध में शामिल पिस्टल भी बरामद कर ली है. 

लखनऊ पुलिस ने अपने बयान में कहा, 'दो संदिग्धों ने खुद को शेख अशफॉक हुसैन और पठान मुईनुद्दीन अहमद के रूप में रजिस्टर्ड कराया. वे 17 अक्टूबर को रात 11.08 पर आए. अगले दिन सुबह 10.38 पर गए और दोपहर 1.21 पर वापस आए और 1.37 पर उन्होंने होटल छोड़ दिया. उनके कमरे से भगवा कपड़े और खून से सनी तौलिया बरामद हुई.'

कमलेश तिवारी के परिजनों से CM योगी की मुलाकात पर बोले अखिलेश यादव, दूसरों के प्रति भी ऐसी ही हमदर्दी...


बता दें कि हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की लखनऊ स्थित दफ्तर में निर्मम हत्या हुई थी. आरोपियों ने पहले उनका गला रेता था, फिर गोली मारी थी. कमलेश तिवारी की हत्या के बाद घटनास्थल से गुजरात की एक दुकान की मिठाई का डिब्बा मिला था. इसी के आधार पर पुलिस ने अपनी जांच आगे बढ़ाई थी. 

वहीं अहमदाबाद की एक अदालत ने हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के मामले में गुजरात एटीएस द्वारा गिरफ्तार किए गए तीन लोगों की ट्रांजिट रिमांड रविवार को उत्तर प्रदेश पुलिस को दे दी. एक अधिकारी ने बताया कि अदालत ने रविवार शाम को आरोपियों मोहसिन शेख, फैजान और राशिद अहमद को 72 घंटे की ट्रांजिट रिमांड में उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया. आरोपियों को गुजरात एटीएस ने सूरत से गिरफ्तार किया था. 

कमलेश तिवारी की हत्या के बाद अब इस हिंदूवादी नेता को मिली जान से मारने की धमकी, जांच शुरू

टिप्पणियां

उन्होंने बताया कि सोमवार सुबह तीनों आरोपियों के साथ एक पुलिस टीम लखनऊ के लिए रवाना होगी. तीनों लोगों को गुजरात एटीएस ने एक दुकान से प्राप्त सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गिरफ्तार किया था, जहां से उसने मिठाई खरीदी थी.

VIDEO: कमलेश तिवारी हत्याकांड: पीड़ित परिवार ने सीएम योगी से की मुलाकात



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement