NDTV Khabar

कमलेश तिवारी हत्याकांड: होटल के कमरे से मिला लावारिस बैग और भगवा कुर्ता, फॉरेंसिक टीम ने कमरे को किया सील

यूपी पुलिस ने इस कमरे से मिले सामान को कब्जे में लेकर उसकी जांच शुरू कर दी है. साथ ही यूपी पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए होटल के इस कमरे को सील कर लिया है. यूपी पुलिस की फॉरेंसिक टीम फिलहाल इस कमरे की जांच कर रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. यूपी पुलिस ने जांच के दौरान कई बड़े खुलासे किए
  2. सीएम योगी से मिला पीड़ित परिवार
  3. फॉरेंसिक टीम ने सील किया होटल का कमरा
नई दिल्ली:

हिंदु समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या मामले में पुलिस की जांच जारी है. अभी तक पुलिस ने इस पूरे मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार भी किया है. यूपी पुलिस की SIT ने जांच को आगे बढ़ाते हुए लखनऊ के एक होटल के कमरे में रविवार को तलाशी अभियान चलाया. इस दौरान होटल के कमरे से एक लवारिस बैग और भगवा रंग का कुर्ता भी मिला है. यूपी पुलिस ने इस कमरे से मिले सामान को कब्जे में लेकर उसकी जांच शुरू कर दी है. साथ ही यूपी पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए होटल के इस कमरे को सील कर लिया है. यूपी पुलिस की फॉरेंसिक टीम फिलहाल इस कमरे की जांच कर रही है. वहीं, कमलेश तिवारी का परिवार सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने के लिए रविवार सुबह ही लखनऊ पहुंच गया है. सीएम योगी से मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने पीड़ित को परिवार को हर संभव मदद देने का भरोसा दिया है. 

कमलेश तिवारी हत्याकांड पर कुमार विश्वास ने किया ट्वीट, राजनीतिक दलों की चुप्पी पर उठाए सवाल


बता दें कि यूपी पुलिस की जांच के बीच कमलेश तिवारी के परिवार ने बीजेपी नेता पर साजिश रचने का आरोप लगाया है. कमलेश तिवारी की मां ने आरोप ने लगाया कि राम जानकी मंदिर के मुकदमे की वजह से उनके बेटे को निशाना बनाया गया है. उन्होंने स्थानीय नेता शिव कुमार गुप्ता का नाम लेते हुए कहा कि वह माफिया हैं, मेरे बेटे के सामने उनकी दाल नहीं गली. इससे पहले कमलेश तिवारी के बेटे ने भी घटना की जांच एनआईए से कराने की अपील की थी और कहा था कि हमें प्रशासन पर भरोसा नहीं है. 

कमलेश तिवारी हत्याकांड पर कुमार विश्वास ने किया ट्वीट, राजनीतिक दलों की चुप्पी पर उठाए सवाल

कमलेश तिवारी के बेटे सत्यम तिवारी का कहना है कि उन्हें नहीं पता है कि जो लोग पकड़े गए हैं उन्हीं लोगों ने पिता को मारा है या निर्दोष लोगों को फंसाया जा रहा है. मृतक के बेटे ने कहा कि अगर यही लोग असली दोषी हैं और इनके खिलाफ कोई वीडियो सबूत है तो इसकी जांच एनआईए (NIA) को करनी चाहिए.  सत्यम ने आगे कहा कि अगर उनकी जांच में यह साबित हो जाता है तभी वह लोग संतुष्ट होंगे. उन्होंने आगे कहा, 'मुझे इस प्रशासन पर कोई विश्वास नहीं है'.

कमलेश तिवारी के बेटे ने कहा, जो लोग पकड़े गए हैं अगर उनके खिलाफ कोई सबूत हैं तो जांच NIA करे, मुझे इस प्रशासन पर विश्वास नहीं

वहीं कमलेश तिवारी की माता के संदेह पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधा. एक रैली के दौरान उन्होंने कहा कि हिंदू पार्टी के नेता की हत्या हो गई, समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान उन्हें सिक्योरिटी दी गई थी लेकिन योगी सरकार ने सुरक्षा मुहैया नहीं कराई. उनकी मां कई बार इसका जिक्र कर चुकी हैं.  

लखनऊ के कमलेश तिवारी हत्याकांड में पकड़े गए तीन आरोपियों ने जुर्म कबूला : गुजरात ATS

बता दें कि अखिल भारत हिन्दू महासभा के खुद को अध्यक्ष बताने वाले कमलेश तिवारी की उनके घर में ही शुक्रवार को हत्या कर दी गई थी. इस घटना को अंजाम देने वाले तीन संदिग्धों को CCTV फुटेज में साफ देखा जा सकता है. घटना के बारे में मिली जानकारी के मुताबिक सुबह दो लोग कमलेश तिवारी से मिलने आए थे. जिन्हें तिवारी ने भीतर बुलाया. फिर अपने साथी से कहा कि सिगरेट लेकर आएं. जब वह लौटा तो कमलेश तिवारी की हत्या हो चुकी थी. घर से एक पिस्तौल बरामद हुआ. ये लोग दिवाली की मिठाई देने के बहाने आए थे. डिब्बे में हथियार थे.

Video: कमलेश तिवारी के बेटे ने की NIA जांच की मांग

टिप्पणियां

  



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement