NDTV Khabar

कानपुर एयरपोर्ट का नाम गणेश शंकर विद्यार्थी के नाम पर रखा जाएगा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री ने स्मार्ट सिटी मिशन के तहत कानपुर नगर के लिए लगभग 275 करोड़ रुपये की नौ परियोजनाओं का शिलान्यास किया.

961 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कानपुर एयरपोर्ट का नाम गणेश शंकर विद्यार्थी के नाम पर रखा जाएगा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कानपुर स्थित हवाई अड्डे का नाम गणेश शंकर विद्यार्थी के नाम पर रखा जाएगा और पनकी रेलवे स्टेशन का नाम 'पनकी धाम' किया जाएगा.  यह ऐलान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज कानपुर में एक कार्यक्रम के दौरान किया. सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक मुख्यमंत्री ने कानपुर के लिए 850 करोड़ रुपये की लागत की परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया. साथ ही मुख्यमंत्री ने स्मार्ट सिटी मिशन के तहत कानपुर नगर के लिए लगभग 275 करोड़ रुपये की नौ परियोजनाओं का शिलान्यास किया.

इस मौके पर योगी ने कहा, 'कानपुर एयरपोर्ट का नाम गणेश शंकर विद्यार्थी जी के नाम पर रखा जाएगा. साथ ही, पनकी रेलवे स्टेशन का नाम ‘पनकी धाम’ किया जाएगा.' योगी ने चन्द्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कैलाश भवन में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि सभी विकास कार्यों को निर्धारित समय से पूरा करने के साथ ही उनकी गुणवत्ता भी सुनिश्चित की जाए. इससे ही प्रदेश में विकास की गति तेजी से बढ़ेगी. 'एक समय कानपुर देश के औद्योगिक और व्यापारिक रूप से सर्वाधिक विकसित नगरों में शामिल था. इन योजनाओं के लागू हो जाने से कानपुर को अपना पुराना स्थान वापस पाने में मदद होगी.' 

यह भी पढ़ें : पहले दिन लखनऊ मेट्रो में सफर कर रहे यात्री घबराए, 1.30 घंटे फंसे रहने के बाद इमरजेंसी गेट से निकले

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार गंगा सहित बड़ी नदियों को प्रदूषण मुक्त करने के लिए गम्भीरता से कार्य कर रही है. विभिन्न नगरों में एसटीपी के निर्माण के साथ एसटीपी की क्षमता में बढ़ोत्तरी भी करायी जा रही है. कानपुर में एसटीपी के निर्माण से सीवर जैसी कानपुर की पुरानी समस्या से काफी हद तक छुटकारा मिल जाएगा.

परियोजनाओं में नई तकनीक के प्रयोग की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे कानपुर नगर की जनता को प्रदूषणरहित साफ एवं शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सकेगा. उन्होंने कहा कि भारत में साफ-सफाई में इंदौर नगर निगम का स्थान प्रथम है. प्रदेश के नगरीय स्थानीय निकायों को भी इंदौर नगर निगम से सीख लेकर प्रयास करना चाहिए कि हमारा प्रदेश भी सफाई के मामले में आगे आये.

यह भी पढ़ें : लखनऊ मेट्रो उद्घाटन : सीएम योगी पर सपा ने कसा ताना, 'राम-नाम जपना, पराया माल अपना'


मुख्यमंत्री ने कहा कि कानपुर में लगने वाला जाम एक बड़ी समस्या है. मेट्रो रेल का संचालन इस समस्या का कारगर समाधान हो सकता है. कानपुर में मेट्रो रेल संचालन के लिए प्रदेश सरकार काम कर रही है. राज्य सरकार की योजना प्रदेश के बड़े नगरों में मेट्रो रेल के संचालन की है. इसके लिए केन्द्रीकृत व्यवस्था के तहत यूपी मेट्रो रेल कारपोरेशन का गठन किया जा रहा है. कानपुर में मेट्रो के संचालन से जनता को सस्ता यातायात सुलभ होगा. साथ ही पर्यावरण भी सुरक्षित रहेगा.
VIDEO: यूपी में सड़कों की स्थिति खराब

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार को रोकने के लिए प्रतिबद्ध है. इसके लिए लगातार कदम उठाये जा रहे हैं. प्रदेश सरकार ने भर्तियों में भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए समूह ‘ग’ और ‘घ’ की भर्ती प्रक्रिया से साक्षात्कार पूरी तरह हटा दिया है. इस अवसर पर नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना, औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी भी उपस्थित थे.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement