NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश: लखनऊ में ब्लैकमनी के नाम पर व्यापारी से 1.58 करोड़ रुपये लूट कर ले गए पुलिसवाले, दो सस्पेंड

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक बार फिर से खाकी वर्दी दागदार हुई है.

1.4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश: लखनऊ में ब्लैकमनी के नाम पर व्यापारी से 1.58 करोड़ रुपये लूट कर ले गए पुलिसवाले, दो सस्पेंड

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक बार फिर से खाकी वर्दी दागदार हुई है. लखनऊ में लखनऊ में पवन मिश्रा और आशीष तिवारी के नाम के दो सब इंस्पेक्टर को ब्लैकमनी के नाम पर एक कोल व्यापारी से करीब 1.58 करोड़ रुपये लेने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है. इन दोनों सब इंस्पेक्टर ने ब्लैक मनी बताकर कोल व्यापारी से 1.58 करोड़ रुपये ले लिए. जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है. 

एसएसपी नैथानी ने कहा कि इस मामले में इनके अलावा अन्य तीन-चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. हालांकि, अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि पुलिस को यह पैसे कहां और किस वक्त कोल व्यापारी से मिला. 

इससे पहले भी लखनऊ में पुलिस की वर्दी के नाजायज इस्तेमाल का एक मामला सामने आ चुका है. पिछले साल लखनऊ में एप्पल एक एरिया मैनेजर की पुलिस कॉन्स्टेबल की गोली से हत्या का मामला सामने आ चुका है. विवेक तिवारी हत्याकांड से पहले भी पुलिस कई वजहों से बदनाम रही है. एंटी रोमियो मुहिम में ही पुलिस ने कई लोगों की खुलेआम बेइज्जती की, नोएडा में एक सब-इंन्सपेक्टर ने फर्जी एनकाउंटर में जिम ट्रेनर को गोली मार दी, मुरादाबाद में थाने के अंदर प्रेमी जोड़े की पिटाई कर दी, हापुड़ में मॉब लिचिंग में संवेदनहीनता दिखाई, अलीगढ़ में लाइव एन्काउंटर शूट किया गया और मेरठ में एक छात्र को इसलिए पीटा गया क्योंकि उसकी दोस्त किसी दूसरे धर्म की थी. 


टिप्पणियां

वीडियो-लखनऊ में विवेक तिवारी मर्डर का पुलिस ने किया रीक्रिएशन 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement