NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश: बच्चा चोरी की अफवाहों पर भीड़ ने शख्स को पीट-पीटकर मार डाला, महिला को किया ज़ख्मी

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के संभल में बच्चा चुराने की कोशिश करने की अफवाह फैलने के बाद एक शख्स को भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मारा डाला गया है और उसके भाई को ज़ख्मी कर दिया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश: बच्चा चोरी की अफवाहों पर भीड़ ने शख्स को पीट-पीटकर मार डाला, महिला को किया ज़ख्मी

राष्ट्रीय राजधानी से सटे गाज़ियाबाद में हुई यह घटना

लखनऊ:

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के संभल में बच्चा चुराने की कोशिश करने की अफवाह फैलने के बाद एक शख्स को भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मारा डाला गया है और उसके भाई को ज़ख्मी कर दिया गया है. इसी तरह राष्ट्रीय राजधानी से सटे गाज़ियाबाद में हुई एक अन्य घटना में एक बुजुर्ग महिला को बच्चा चोर होने के आरोप में बुरी तरह पीट डाला गया, जब वह अपने पोते के साथ बाज़ार गई थी. संभल में दो भाई अपने बीमार भतीजे को एक डॉक्टर के पास ले जा रहे थे, जब कुछ लोगों ने उनके पास आकर उन पर बच्चे को अगवा करने का आरोप लगाया. एक वीडियो में देखा जा सकता है कि दोनों भाई ज़मीन पर गिरे हुए हैं, और उन पर घूंसे बरसाए जा रहे हैं. वह भीड़ से बेगुनाह होने की गुहार करते रहे, लेकिन लाठियों और लोहे के सरियों से लैस भीड़ ने बेरहमी से उनकी पिटाई करना जारी रखा. 

उत्तर प्रदेश के बांदा में संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की छत से गिरकर मौत, पिता ने लगाया दहेज हत्या का आरोप


पश्चिमी उत्तर प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में लोग बच्चा चोरी की अफवाहों पर जल्दी यकीन कर लिया करते हैं, और पुलिस के मुताबिक, सिर्फ बुलंदशहर जिले से ही पिछले एक महीने के दौरान कम से कम 12 ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें भीड़ ने लोगों पर बच्चे अगवा करने के आरोप में हमला किया हो.

दूसरी वारदात गाज़ियाबाद में हुई, जहां एक महिला को भीड़ द्वारा पीटे जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर भेजा गया.

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में ट्रक ने टेंपो और सवारी वाहन को टक्कर मारी, 16 की मौत

उत्तर प्रदेश पुलिस का कहना है कि वे सभी मामलों में कार्रवाई कर रहे हैं, ताकि अफवाहों पर रोक लग सके, और उनकी वजह से लोगों पर हमला नहीं किया जाए. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पी.वी. रामास्वामी ने समाचार एजेंसी ANI से कहा, "पिछले कुछ दिनों में कुछ जिलों में बच्चा उठाने के आरोप में लोगों को भीड़ द्वारा पीटा गया है... हमने घटनाओं का विश्लेषण किया, बच्चा चोरी का कोई मसला नहीं था... ये असामाजिक तत्वों द्वारा फैलाई गई अफवाहें थीं... अब तक 44 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं..."

सोशल मीडिया, खासतौर से व्हॉट्सऐप, पर शेयर की जाने वाली बच्चा चोरी की अफवाहों की वजह से कई बार मासूम लोगों पर हमला किए जाने की वारदात हो चुकी हैं. ऐसी घटनाएं देशभर में होती रही हैं.

यूपी में अब अपराधियों की 'खैर नहीं', योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला- बन रही यह LIST

टिप्पणियां

पिछले साल जुलाई में कर्नाटक के बीदर में व्हॉट्सऐप पर फैली बच्चा चोरी की अफवाह की वजह से 32-वर्षीय एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को पीट-पीटकर मार डाला गया था, तथा तीन अन्य लोग, जिनमें से एक कतर का नागरिक था, बुरी तरह ज़ख्मी हो गए थे. पुलिस के मुताबिक, भीड़ का हमला उस समय शुरू हुआ, जब कतर के नागरिक को बच्चों को चॉकलेट बांटते देखा गया. इलाके में बच्चों को अगवा किए जाने की अफवाहें फैल ही रही थीं कि उसी वक्त चॉकलेट बांटते हुए शख्स को देखा गया, तो पास ही के गांव के निवासियों ने व्हॉट्सऐप ग्रुप पर मैसेज भेजे, और उसके बाद हमला हो गया था.

Video: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में चार्टर्ड प्लेन क्रैश



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement