NDTV Khabar

मायावती ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, सरकार की मिलीभगत के चलते खरबों रु का गबन करने वाले हो रहे फरार

मायावती ने एक बयान में कहा, 'बड़े-बड़े पूंजीपति और धन्नासेठ अपने निजी स्वार्थ व लाभ के लिए देशहित से घिनौना खिलवाड़ करते हुये सरकारी बैंको का अरबों-खरबों रुपयों का ग़बन कर रहे हैं और सरकार की संलिप्तता के कारण वे देश से फरार होने में सफल हो रहे हैं.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मायावती ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, सरकार की मिलीभगत के चलते खरबों रु का गबन करने वाले हो रहे फरार

मायावती की फाइल फोटो

लखनऊ: बसपा अध्यक्ष मायावती ने आज पीएम मोदी की सरकार पर आरोप लगाया कि सरकारी बैंकों के अरबों—खरबों रुपये का गबन करने वाले बडे़ पूंजीपति सरकार की मिलीभगत के कारण देश से फरार होने में सफल हो रहे हैं. मायावती ने एक बयान में कहा, 'बड़े-बड़े पूंजीपति और धन्नासेठ अपने निजी स्वार्थ व लाभ के लिए देशहित से घिनौना खिलवाड़ करते हुये सरकारी बैंको का अरबों-खरबों रुपयों का ग़बन कर रहे हैं और सरकार की संलिप्तता के कारण वे देश से फरार होने में सफल हो रहे हैं.'

'उत्तर प्रदेश इनवेस्टर्स समिट' पर मायावती का तंज, कहा- एक फैशन शो की तरह था

उन्होंने कहा कि कुछ मुठ्ठी भर बड़े-बड़े पूंजीपतियों और धन्नासेठों के हित में तो लगातार काम किये जा रहे हैं परन्तु देश के सवा सौ करोड़ ग़रीबों, मज़दूरों, किसानों, युवाओं, बेरोज़गारों व अन्य मेहनतकश लोगों से किये गये अच्छे दिन के वायदे क्यों नहीं पूरे किये जा रहे हैं जबकि इनमें ही देश का असली हित निहित है. मायावती ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा कोयला क्षेत्र का निजीकरण करके निजी कम्पनियों को कोयला खदानों में उत्पादन और इस्तेमाल की अनुमति देने के फैसले को धन्नासेठों का तुष्टीकरण करने की नीति बताया.

Video-बीएसपी को जमीनी स्तर पर मजबूत बनाने की कवायद में जुटीं मायावती


टिप्पणियां
उन्होंने कहा कि कोयला जैसी महत्वपूर्ण राष्ट्रीय सम्पत्ति का दोहन करने के लिये इसका निजीकरण करना चिन्ता की बात है. बता दें कि हाल ही में केन्द्र सरकार ने कोयला खनन क्षेत्र निजी कंपनियों के लिए खोल दिया है. कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि इससे कोयला क्षेत्र की क्षमता बढेगी और इसे एकाधिकार से हटाकर प्रतिस्पर्धा के युग में लाया जा सकेगा.

इनपुट- भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement