NDTV Khabar

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की फिर बिगड़ी तबीयत, गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में कराया गया भर्ती  

इससे पहले रविवार को भी मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की तबीयत एकाएक बिगड़ गई थी. उस दौरान उन्हें लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की फिर बिगड़ी तबीयत, गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में कराया गया भर्ती  

मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया

नई दिल्ली:

सपा (SP) संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की तबीयत एक बार फिर बिगड़ गई है. उन्हें सोमवार की रात गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है. इससे पहले रविवार को भी मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की तबीयत एकाएक बिगड़ गई थी. उस दौरान उन्हें लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था. मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) को हाई शुगर की समस्या से चलते भर्ती किया गया था. हालांकि बाद में उनकी अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. मेदांता अस्पताल की तरफ से अभी तक मुलायम सिंह यादव की सेहत को लेकर कोई भी जानकारी साझा नहीं की गई है.

 मुलायम ने शुरू की यादव परिवार को एकजुट करने की कवायद, अखिलेश और शिवपाल से की बात...


गौरतलब है कि सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) से उनके आवास पर मुलाकात की और उनकी सेहत का हाल जाना था. इस दौरान सपा प्रमुख अखिलेश यादव और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल यादव भी मौजूद थे. बता दें कि मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) को हाई शुगर की समस्या से चलते रविवार को लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था.यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानथ ने भी ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट किया था कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव जी से आज उनके आवास पर भेंट कर उनका कुशलक्षेम पूछा. ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वे शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करें. 

बता दें कि इससे पहले ऐसी खबरे आईं थी कि लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के निराशाजनक प्रदर्शन को देखते हुए पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने बेटे अखिलेश (Akhilesh Yadav) और भाई शिवपाल (Shivpal Yadav) के बीच सुलह कराने की एक बार फिर कोशिश की. पार्टी से जुड़े सूत्रों ने बताया कि मतभेद दूर करने के लिए पिछले कुछ दिन में मुलायम ने अखिलेश से, शिवपाल से और पूरे कुनबे से मुलाकात की. ये मुलाकातें यहां और उत्तर प्रदेश के सैफई में हुईं हैं. 

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: एक ही झटके में महागठबंधन धड़ाम! विधानसभा की ये 11 सीटें बनीं वजह

मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की कोशिशें हालांकि कामयाब होती नहीं दिख रही हैं, क्योंकि शिवपाल ने अपनी 'प्रगतिशील समाजवादी पार्टी' का सपा में विलय से इनकार कर दिया है. शिवपाल पिछले साल सपा से अलग हो गए थे और उन्होंने अपनी अलग पार्टी बना ली थी. उन्होंने कुनबे में फूट के लिए रिश्ते के भाई एवं पार्टी महासचिव राम गोपाल यादव को जिम्मेदार ठहराया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement