NDTV Khabar

गायत्री प्रजापति से जेल में मिले मुलायम, बोले- आतंकवादियों जैसा हो रहा है सलूक, पीएम मोदी से करूंगा शिकायत

समाजवादी पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति से मुलाकात करने मंगलवार को जिला जेल पहुंचे. प्रजापति गैंगरेप के आरोप में जेल में बंद हैं.

718 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गायत्री प्रजापति से जेल में मिले मुलायम, बोले- आतंकवादियों जैसा हो रहा है सलूक, पीएम मोदी से करूंगा शिकायत

मुलायम ने संवाददाताओं से कहा कि गायत्री प्रजापति निर्दोष हैं....(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. गायत्री प्रजापति गैंगरेप के आरोप में लखनऊ जेल में बंद हैं
  2. कहा - आवश्यकता पड़ी तो गायत्री के मामले के लिए राष्ट्रपति से भी मिलूंगा
  3. मुलायम बोले - पुलिस के पास प्रजापति के खिलाफ कोई सबूत नहीं है
लखनऊ: समाजवादी पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति से मुलाकात करने मंगलवार को जिला जेल पहुंचे. प्रजापति गैंगरेप के आरोप में जेल में बंद हैं. मुलायम ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि प्रजापति निर्दोष हैं. उनके साथ आतंकवादियों जैसा सलूक किया जा रहा है. मैं प्रधानमंत्री (नरेन्द्र मोदी) से मुलाकात करूंगा और अगर आवश्यकता पड़ी तो राष्ट्रपति से भी मिलूंगा और उन्हें इस बारे में अवगत कराऊंगा. उन्होंने कहा कि पुलिस के पास प्रजापति के खिलाफ कोई सबूत नहीं है. उसके खिलाफ साजिश की जा रही है. 

मुलायम कल भी प्रजापति से मिलने जेल गए थे लेकिन मुलाकात की अनुमति नहीं मिली क्योंकि कल ईद के चलते अवकाश था. आज मुलायम करीब घंटे भर प्रजापति के साथ रहे. मुलायम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को काले झंडे दिखाने के लिए जेल में बंद कुछ लड़कियों के पक्ष में भी बोले. उन्होंने दावा किया कहा कि लोकतंत्र में काले झंडे दिखाने का अधिकार है. लड़कियों के साथ भी आतंकियों जैसा सलूक किया जा रहा है. 

उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर गौतमपल्ली थाने में प्रजापति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था. शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके साथ प्रजापति और उसके साथियों ने गैंगरेप किया और आरोपी की बुरी नजर उसकी नाबालिग बेटी पर भी थी जिसके बाद उसने मामला दर्ज कराया. 

सत्ता बदलते ही गिरफ्तार 
यूपी विधानसभा के चुनाव परिणाम आते ही गिरफ्तार किया गया था. गिरफ्तारी के बाद 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में भेजा गया. उनकी गिरफ्तारी नहीं हो पाने के कारण अखिलेश सरकार की अच्‍छी खासी किरकरी भी हुई थी. प्रजापति इस बार अमेठी से विधानसभा चुनाव भी हार गए थे.  

गिरफ्तार होते ही बुरे दिन शुरू हुए 
गिरफ्तारी के बाद ही प्रजापति के बुरे दिन शुरू हो गए थे. लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में उनके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया. इसके बाद थोड़े दिन के लिए उन्हें जमानत भी मिली लेकिन  जल्द ही रद्द हो गई.  हाल ही में लखनऊ में पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की निर्माणाधीन इमारत को लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) के एक दस्ते ने गिरा दिया. एलडीए के उपाध्यक्ष पीएन सिंह ने बताया कि प्रजापति को एक आवासीय प्‍लॉट दिया गया था और आवासीय नक्शा भी पास किया गया था लेकिन उस जमीन पर जिस भवन का निर्माण किया जा रहा था वह एलडीए द्वारा पास किये गये नक्शे के विपरीत था और नियमों का उल्‍लंघन किया जा रहा था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement