NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव की अधिसूचना जारी : तीन चरणों में संपन्न होगा मतदान

राज्य निर्वाचन आयुक्त एस. के. अग्रवाल ने यहां संवाददाताओं को बताया कि नगरीय निकाय चुनावों की अधिसूचना के तहत तय कार्यक्रम के मुताबिक 22 नवम्बर को 24 जिलों, 26 नवंबर को 25 तथा 29 नवंबर को 26 जिलों में मतदान होगा.

390 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव की अधिसूचना जारी : तीन चरणों में संपन्न होगा मतदान

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव की अधिसूचना शुक्रवार को जारी हो गई. सभी प्रमुख दलों के अपने चिह्न पर लड़ने के एलान के कारण बेहद महत्वपूर्ण हो चुके ये चुनाव अगले महीने के दूसरे पखवाड़े में तीन चरणों में होंगे. राज्य निर्वाचन आयुक्त एस. के. अग्रवाल ने यहां संवाददाताओं को बताया कि नगरीय निकाय चुनावों की अधिसूचना के तहत तय कार्यक्रम के मुताबिक 22 नवम्बर को 24 जिलों, 26 नवंबर को 25 तथा 29 नवंबर को 26 जिलों में मतदान होगा.

उन्होंने बताया कि चुनाव प्रक्रिया में केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों को नहीं तैनात किया जाएगा. राज्य पुलिस बल की ही तैनाती रहेगी. अग्रवाल ने बताया कि 16 नगर निगमों, 198 नगर पालिका परिषद और 438 नगर पंचायतों के चुनाव की मतगणना एक दिसंबर को होगी.

यह भी पढ़ें : तमंचा लेकर सीएम योगी आदित्‍यनाथ से मिलने जा रहा सिरफिरा गिरफ्तार

उन्होंने बताया कि कुल 36, 269 मतदान बूथ और 11, 389 मतदान केंद्र बनाये जाएंगे. कुल 3. 32 करोड़ लोग अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे. अलग-अलग चरणों का ब्यौरा देते हुए अग्रवाल ने बताया कि पहले चरण में 24 जिलों में मतदान होगा. इसमें पांच नगर निगम, 71 नगर पालिका परिषद और 154 नगर पंचायतें शामिल हैं. दूसरे चरण में 25 जिलों में मतदान होगा. इसमें छह नगर निगम, 51 नगर पालिका परिषद और 132 नगर पंचायत शामिल हैं. तीसरे चरण में 26 जिलों में मतदान होगा. इसमें पांच नगर निगम, 76 नगर पालिका परिषद और 152 नगर पंचायत शामिल हैं.

उन्होंने बताया कि अधिसूचना जारी हो चुकी है. इस बार मतदाताओं को आयोग की वेबसाइट पर मोबाइल नंबर पंजीकृत करने का विकल्प दिया गया है. सभी सूचनाएं और परिणाम मोबाइल नंबर पर तत्काल उपलब्ध करा दी जाएंगी. ऐसा देश में पहली बार हो रहा है.

VIDEO :  ये अहम नहीं कि ताजमहल कब और कैसे बना, बोले योगी आदित्‍यनाथ​


अग्रवाल ने बताया कि दस प्रतिशत पोलिंग बूथ अत्यंत संवेदनशील श्रेणी में रखे गए हैं. वहां चुनाव प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होगी और सीसीटीवी लगाए जाएंगे. उन्होंने बताया कि नगर निगम के मेयर और पार्षद पदों के चुनाव इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन से होंगे, जबकि नगर पालिका परिषद और नगर पंचायत अध्यक्षों एवं सदस्यों का निर्वाचन बैलेट पेपर के माध्यम से होगा.
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement