अब नोएडा से लखनऊ का सफर जेब पर पड़ेगा भारी, लगेगा 985 रुपये टोल

आगामी 15 जनवरी से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर टोल वसूली शुरू हो जाएगी, मार्ग पर दो टोल प्लाजा होंगे

अब नोएडा से लखनऊ का सफर जेब पर पड़ेगा भारी, लगेगा 985 रुपये टोल

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • यमुना एक्सप्रेस-वे पर ग्रेटर नोएडा से आगरा तक के लिए 415 रुपये टोल
  • आगरा से लखनऊ जाने के लिए 570 रुपये टोल देना होगा
  • यूपी एक्सप्रेस-वे इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी टोल प्लाजा संचालित करेगी
नई दिल्ली:

यमुना एक्सप्रेस-वे और आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के जरिए लखनऊ तक का सफर करने के लिए आपको अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी. 15 जनवरी से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर टोल वसूली शुरू हो जाएगी. हालांकि आगरा से लखनऊ तक की यात्रा करने वालों को कितना टोल देना पड़ेगा, यह अभी तय नहीं हुआ है, बताया जा रहा है कि यह यह रकम 570 रुपये होगी.

अब तक देश के सबसे लंबे लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर वाहनों की आवाजाही के लिए कोई टोल नहीं लगता था. लेकिन 15 जनवरी से इस पर टोल वसूली शुरू हो जाएगी. बताया जाता है कि इस मार्ग पर दो टोल प्लाजा होंगे. एक लखनऊ और एक आगरा की तरफ. यूपी एक्सप्रेस-वे इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी टोल प्लाजा का संचालन करेगी.

यह भी पढ़ें : राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल टैक्स में कोई छूट नहीं, अच्छी सेवाएं चाहते हैं तो करना पड़ेगा भुगतान : नितिन गडकरी

यमुना एक्सप्रेस-वे द्वारा ग्रेटर नोएडा से आगरा तक जाने के लिए 415 रुपये टोल के रूप में देने होते हैं. अब आगरा से लखनऊ जाने के लिए 570 रुपये टोल देने होंगे, जल्द ही टोल वसूलने का काम शुरू किया जाएगा. यानि नोएडा से लखनऊ तक की यात्रा के लिए एक वाहन को कुल 985 रुपये खर्च करने होंगे.
नोएडा से लखनऊ की दूरी लगभग 500 किमी है जो कि ऐक्सप्रेस-वे बन जाने के बाद मात्र 6 घंटे में पूरी हो जाती है. फिलहाल आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर लाइट लगाने का काम हो रहा है जिसके बाद दो जगह पेट्रोल पंप और यात्री सेवाओं की व्यवस्था भी की जाएगी. आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को खुले हुए लगभग एक साल हो गया है. कन्नौज, फिरोज़ाबाद, इटावा जाने वालों को भी आगरा में टोल की पर्ची कटानी होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : टोल के खेल में डूबे 500 करोड़

वहीं यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरण का कहना है कि उसने टोल नहीं बढ़ाया है. आगरा से लखनऊ तक के लिए 570 रुपये जोड़कर कुल 985 रुपये देने होंगे. यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने पिछले वर्ष टोल नहीं बढ़ाया, लेकिन उम्मीद है कि आगामी अप्रैल से यमुना एक्सप्रेस-वे पर भी टोल में इजाफा होगा.