NDTV Khabar

यूपी में मनचलों की खैर नहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लड़कियों की सुरक्षा के लिए बनाया एंटी रोमियो स्क्वॉड

729 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी में मनचलों की खैर नहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लड़कियों की सुरक्षा के लिए बनाया एंटी रोमियो स्क्वॉड

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद शोहदों पर कार्रवाई करती पुलिस...

खास बातें

  1. राज्य सरकार ने बनाया एंटी रोमियो स्क्वॉड
  2. आरोप : लड़कियों और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पिछली सरकारे उदासीन
  3. बीजेपी ने चुनाव में किया था वादा.
लखनऊ: उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीजेपी के चुनावी वादे के हिसाब राज्य में हर शहर में एंटी रोमियो स्क्वॉड बनाने का आदेश दे दिया है. पार्टी का आरोप रहा है कि राज्य में लड़कियों और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पिछली सरकारें उदासीन रही हैं. बीजेपी नेताओं ने चुनाव में आरोप लगाया था कि राज्य में मनचलों के चलते लड़कियों को कॉलेज आने जाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता रहा है. कई बार ऐसी स्थिति में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल उठता रहा है.

राज्य में बीजेपी की सरकार बनने के बाद से यूपी पुलिस सतर्क हो गई है और मंगलवार से ही कई शहरों में पुलिस ने लड़कियों के कॉलेज के बाहर खड़े शोहदों पर कार्रवाई आरंभ कर दी थी. कई लोगों को हिरासत में भी लिया गया और कुछ से पूछताछ की गई और फिर उन्हें छोड़ दिया गया.

संसद में भी बयान देते हुए मंगलवार को राज्य के मुख्यमंत्री और सांसद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जल्द ही राज्य में ऐसे कदम उठाए जाएंगे जिससे महिलाओं की सुरक्षा पर लगा प्रश्नचिह्न समाप्त हो सके.

मंगलवार को संसद में अपने आखिरी भाषण में भी योगी ने अपने इरादे जाहिर कर दिए. योगी ने सदन के सामने कहा कि यूपी में अब बहुत चीजों की बंदी होने वाली है. योगी के इस बयान से अब ये कयास लगाए जाने लगे हैं कि यूपी में क्या बंद होने वाला है.

योगी आदित्यनाथ ने महिला सुरक्षा को अपना चुनावी मुद्दा बनाया था. हर मंच से वह महिला सुरक्षा की बात करते रहे थे. संकल्प पत्र में बीजेपी ने महिलाओं को छेड़खाने से बचाने के लिए एंटी रोमियो स्क्वायड बनाने का वादा किया था.

बता दें कि राज्य में बीजेपी की सरकार बनते ही कई शहरों में चल अवैध बूचड़खानों पर स्थानीय प्रशासन ने अपने आप कार्रवाई आरंभ कर दी है. कई अवैध बूचड़खानों सील कर दिया गया है. यह भूचड़खाने अवैध तरीके से अब तक चल रहे थे. वाराणसी से  लेकर लखीमपुर खीरी, गाजियाबाद और मेरठ जैसे तमाम शहरों में अवैध बूचड़खानों पर प्रशासन का डंडा चल गया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement