NDTV Khabar

सहारनपुर में हिंसा के बाद तनाव, स्थिति नियंत्रण में

ऊर्जा मंत्री और सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा कि यह अपेक्षा थी कि सहारनपुर में पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के जाने से शांति बहाली में सहयोग मिलेगा, लेकिन ऐसा न होना दु:खद है.

202 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सहारनपुर में हिंसा के बाद तनाव, स्थिति नियंत्रण में

खास बातें

  1. सहारनपुर में स्थिति नियंत्रण में लेकिन तनावपूर्ण
  2. चार उच्चाधिकारी मौके पर
  3. दलित और राजपूतों के बीच हुई थी हिंसा
सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में मंगलवार को राजपूत और दलितों के बीच हिंसा के बाद अब भी तनाव की स्थिति बनी हुई है. एक दिन पहले हुई हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हुई, जबकि 20 अन्य घायल हो गए थे. हालांकि, स्थिति को नियंत्रित करने के लिए मौके पर पहुंचे चार वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि स्थिति तनावपूर्ण, पर नियंत्रण में है. टीम में मौजूद गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्र ने बताया कि इलाके में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है.

उन्होंने कहा, "स्थिति नियंत्रण में है. हम यहां की हर स्थिति पर निगरानी रखे हुए हैं और हालात समान्य होने तक अधिकारियों को कैंप करने के लिए कहा गया है'. मुख्यमंत्री ने चार वरिष्ठ अधिकारियों के दल को सहारनपुर भेजा है. इस टीम में गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्रा, एडीजी (कनून एवं व्यवस्था) आदित्य मिश्रा, आईजी (एसटीएफ ) अमिताभ यश और डीजी (सुरक्षा) विजय भूषण शामिल हैं.

टिप्पणियां
वहीं, ऊर्जा मंत्री और सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा कि यह अपेक्षा थी कि सहारनपुर में पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के जाने से शांति बहाली में सहयोग मिलेगा, लेकिन ऐसा न होना दु:खद है. उल्लेखनीय है कि मायावती मंगलवार को सहारनपुर के शब्बीरपुर में दलितों के घर पहुंची थीं. पांच मई को हुई जातीय हिंसा में यहां कई दलितों के घर जला दिए जाने के आरोप लगे थे. मायावती यहां दलितों से मिलकर जैसे ही लौटीं देर रात हिंसा भड़क गई, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement