NDTV Khabar

यूपी में सभी 6,600 पेट्रोल पंपों की जांच के आदेश | लखनऊ: 15 पंप पर छापे, सब जगह हो रही थी चोरी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी में सभी 6,600 पेट्रोल पंपों की जांच के आदेश | लखनऊ: 15 पंप पर छापे, सब जगह हो रही थी चोरी

बुधवार को एक साथ यूपी के सारे पेट्रोल पंपों पर हर जिले में रेड शुरू हुई. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. गिरफ्तार शख्‍स ने 1,000 चिप लगाना कबूल किया.
  2. बुधवार को एक साथ यूपी के सारे पेट्रोल पंपों पर हर जिले में रेड शुरू हुई.
  3. अभी सिर्फ उस मशीन को सील जा रहा है, जिसमें चिप लगी मिलती है.
लखनऊ: यूपी सरकार ने पेट्रोल चोरी पकड़ने के लिए प्रदेश के सभी 6,600 पेट्रोल पंपों पर रेड करने का फैसला किया है. हाल ही में एसटीएफ ने पेट्रोल पंपों पर कम पेट्रोल डालने के लिए रिमोट कंट्रोल वाली इलेक्‍ट्रॉनिक चिप लगाने वाले एक शख्‍स को पकड़ा तो उसने 1,000 चिप लगाना कबूल किया और यह भी बताया कि यूपी के 99 फीसदी पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल चोरी करने की चिप लगी हुई है.

लिहाज़ा, बुधवार को एक साथ यूपी के सारे पेट्रोल पंपों पर हर जिले में रेड शुरू हुई. जिला प्रशासन के लोग हर जगह पर जा रहे हैं. पेट्रोल पंपों पर रस्‍सी लगाकर उनको बंद किया जा रहा है. उनकी जांच हो रही है, क्‍योंकि सरकार का कहना है कि जितने भी 6,600 पेट्रोल पंप हैं, सभी की जांच होगी.

यह कार्रवाई इसलिए शुरू की गई है, क्‍योंकि जो शख्‍स चिप लगाने वाला था, उसने यह कहा है कि यूपी के 90 फीसदी पेट्रोल पपों पर पेट्रोल की चोरी होती है. यही नहीं, उसका कहना है कि दिल्‍ली और देश के दूसरे इलाकों में भी पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल की चोरी हो रही है.

लखनऊ में रेड शुरू हुई तो पहले पेट्रोल पंपों पर ही दो मशीनों में चिप लगी मिली. यहां अब तक 15 पेट्रोल पंपों पर रेड हुई है, जिसमें सभी 15 पंपों में पेट्रोल चोरी पाई गई. लखनऊ के एसीएम (द्वितीय) डीपी मिश्रा ने बताया कि इनके पास चार मशीनें हैं, जिनमें से दो में डिवाइस लगी पाई गई. जिससे घटतौली रिमोट के माध्‍यम से की जाती थी और मशीनों में ऐसी कोई व्‍यवस्‍था नहीं पाई गई है. जिन दो मशीनों में चिप लगी पाई गई, उन्‍हें सील कर दिया गया है.

टिप्पणियां
यूपी एसटीएफ ने पहली रेड 27 अप्रैल को की थी. एक पेट्रोल पंप पर कई पेट्रोल डिस्‍पेंसिंग नोज़ल होते हैं, जिनमें से कुछ में चिप लगी मिली है, कुछ में नहीं. लेकिन मिलने पर पूरा पंप सील हो रहा है. इस अंदेशे से अगर यूपी के ज्‍यादातर पेट्रोल पंपों पर चिप निकल आए और सभी सील कर दिए जाएं तो प्रदेश ठप्‍प पर जाएगा, इसलिए अब सिर्फ उस मशीन को सील जा रहा है, जिसमें चिप मिलती है.

डीपी मिश्रा ने बताया कि यह जनता की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए किया गया है, क्‍योंकि जैसी सूचना है कि ज्‍यादातर पेट्रोल पंपों में डिवाइस लगी हुई है तो अगर एकदम से सारे बंद हो गए तो जनता को बहुत बड़ी असुविधा हो सकती है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement