Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

कन्नौज के भीषण हादसे पर पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम योगी ने किया मुआवजे का ऐलान

उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में एक डबल डेकर बस और ट्रक में टक्कर होने के बाद आग लग गई. यह दुर्घटना सिरोही गांव के निकट हुई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कन्नौज के भीषण हादसे पर पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम योगी ने किया मुआवजे का ऐलान

कन्नौज के भीषण हादसे पर पीएम मोदी ने जताया दुख

खास बातें

  1. कन्नौज में हुए भीषण हादसे में 20 अब भी लापता
  2. पीएम मोदी ने घटना पर जताया दुख
  3. कहा- मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट करता हूं
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में एक डबल डेकर बस और ट्रक में टक्कर होने के बाद आग लग गई. यह दुर्घटना सिरोही गांव के निकट हुई. दोनों वाहनों में इतनी तेज भिड़ंत हुई कि दोनों में तुरंत आग लग गई. हादसा होने के बाद कई मुसाफिर बस के शीशे तोड़कर बाहर निकल गए लेकिन कई लोगों के बस में जल जाने का अंदेशा जताया जा रहा है. इस भीषण हादसे पर पीएम मोदी ने भी अपनी संवेदनाएं प्रकट की हैं. अपने ट्विटर अकाउंट पर उन्होंने लिखा कि कन्नौज में हुए भीषण सड़क हादसे के बारे में जानकर अत्यंत दुख पहुंचा है. इस दुर्घटना में कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. मैं मृतकों के परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट करता हूं, साथ ही घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. 

वहीं इससे पहले सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस हादसे पर दुख जाहिर करते हुए इसे अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया था. मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की और घायलों को पचास पचास हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है.मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगी रामनरेश अग्निहोत्री को तत्काल मौके पर पहुंचने का निर्देश दिया और कन्नौज के जिलाधिकारी से दुर्घटना के बारे में रिपोर्ट मांगी है. 


टिप्पणियां

कन्नौज के डीएम रवींद्र कुमार ने बताया कि ''26 लोग गुरसहायगंज से बस में चढ़े थे और 17 लोग छिबरामऊ से चढ़े  थे. कुल 43 यात्रियों के अलावा बस का स्टाफ था. बस में से 21 लोग निकाले गए हैं. मोटे तौर पर 25 लोग नहीं मिले है.'' मृतकों की सटीक संख्या का आंकलन डीएनए टेस्ट के बाद ही हो सकेगा. 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. UP News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... 15 दस्तावेज देकर भी खुद को भारतीय साबित नहीं कर पाई असम की जाबेदा, कानूनी लड़ाई में खो बैठी सब कुछ

Advertisement