NDTV Khabar

वाराणसी में पीएम मोदी बोले- जो काम दशकों पहले होने चाहिए थे, वो अब हो रहे हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र बनारस पहुंचे, जहां उन्होंने  कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वाराणसी में पीएम मोदी बोले- जो काम दशकों पहले होने चाहिए थे, वो अब हो रहे हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को बनारस में कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया.

खास बातें

  1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र बनारस पहुंचे
  2. उन्होंने कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया
  3. पीएम मोदी ने मल्टी मॉडल टर्मिनल का जिक्र करते हुए विपक्ष पर साधा निशाना
वाराणसी:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र बनारस पहुंचे, जहां उन्होंने  कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया. पीएम मोदी ने इस दौरान लोगों को संबोधित भी किया. उन्होंने अपने संबोधन में लोगों को भोजपुरी में छठ पूजा की बधाई दी और कहा कि इस बार मेरा सौभाग्य रहा कि मुझे दीपावली के दिन बाबा केदारनाथ के दर्शन करने का अवसर मिला. अब बाबा विश्वनाथ की नगरी में, आपसे आशीर्वाद लेने का मौका मिला है. उत्तराखंड में, मैं माता भगीरथी की पूजा करके धन्य हुआ, तो आज यहां, अब से कुछ देर पहले मां गंगा के दर्शन भी किए. उन्होंने कहा कि काशी के लिए, पूर्वांचल के लिए, पूर्वी भारत के लिए, पूरे भारतवर्ष के लिए, आज का ये दिन बहुत ऐतिहासिक है. आज वाराणसी और देश, विकास के उस कार्य का गवाह बना है, जो दशकों पहले हो जाना चाहिए था. 

पीएम मोदी ने मल्टी मॉडल टर्मिनल का जिक्र करते हुए कहा कि आज वाराणसी और देश इस बात का गवाह है कि संकल्प लेकर जो कार्य सिद्ध किए जाते हैं तो उसकी तस्वीर कितनी भव्य होती है. वाराणसी का सांसद होने के नाते मेरे लिए दोहरी खुशी का मौका है. आज जल, थल और नव तीनों को ही जोड़ने वाली नई ऊर्जा का संचार इस क्षेत्र में हुआ है. आज मुझे 200 करोड़ रुपये से ज्यादा के बने मल्टी मॉडल टर्मिनल का उद्घाटन करने का सौभाग्य मिला. इस कंटेनर के चलने के मतलब है कि पूर्वांचल अब बंगाल की खाड़ी के साथ जुड़ गया है.


उन्होंने वाराणसी की सड़क, मां गंगा को प्रदूषण मुक्त करने वाले प्रयासों का शिलान्यास किया गया है. ढ़ाई हजार करोड़ से ज्यदा के प्रोजेक्ट बनारस को भव्य बनाएंगे. इस जलमार्ग से समय और पैसा बचेगा. सड़क पर भीड़ भी कम होगी. ईंधन का खर्च भी कम होगा और गाड़ियों से होने वाले प्रदूषण से भी राहत मिलेगी. काशी वासियों को बधाई देता हूं. आजादी के बाद पहले अवसर है कि नदी मार्ग को कारोबार के लिए इस्तेमाल करने के लिए सक्षम हैं.

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी का सोनिया-राहुल पर हमला- जो मां-बेटे रुपयों की हेरा-फेरी पर जमानत पर है वो मुझसे नोटबंदी के फायदे पूछ रहे हैं

टिप्पणियां

उन्होंने  विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि चार साल पहले इस प्रोजेक्ट का मजाक उड़ाया गया था. कलकत्ता से आए जहाज ने आलोचकों को खुद ही जवाब दिया है. यह प्रोजेक्ट सिर्फ ढुलाई की हिस्सा नहीं  न्यू इंडिया सबूत है. देश के संसाधनों और देश के सामर्थ्य पर भरोसा किया जाता है. यूपी, पूर्वांचल में फर्टिलाइडर समेत कितने भी कारखाने हैं वो सीधे पूर्वी बंदरगाह तक पहुंच जाएगा. वो दिन दूर नहीं जब वाराणसी में होने वाली सब्जी आदि इसी जलमार्ग से जाया करेगी. लघु उद्योग वालों और किसानों के लिए कितना बड़ा रास्ता खुलने जा रहा है.

पीएम मोदी ने लोगों से कहा कि आप अपनी ऊर्जा 2019 तक बचाकर रखना है.  इस दौरान पीएम मोदी के साथ योगी आदित्यनाथ और नितिन गडकरी भी मौजूद थे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement