NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पुलिस ने रोकी नाबालिग लड़की की शादी 

उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर जिले के भंडुरा गांव में विवाह स्थल पर पुलिस की एक टीम पहुंचने के बाद एक नाबालिग लड़की की शादी कराने का प्रयास विफल हो गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पुलिस ने रोकी नाबालिग लड़की की शादी 

प्रतीकात्मक फोटो.

मुफ्फरनगर:
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर जिले के भंडुरा गांव में विवाह स्थल पर पुलिस की एक टीम पहुंचने के बाद एक नाबालिग लड़की की शादी कराने का प्रयास विफल हो गया. पुलिस अधीक्षक (शहर) ओमबीर सिंह ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि एक दलित दंपति अपनी 16 वर्षीय बेटी की शादी मेरठ के एक व्यक्ति से कर रहे हैं.  उन्होंने बताया कि लड़की के जन्म प्रमाणपत्र की जांच में पाया गया कि वह नाबालिग है. 

बता दें कि हाल ही में 10वीं कक्षा की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली एक बच्ची को 38-वर्षीय दिव्यांग व्यक्ति के साथ हो रही शादी को पुलिस ने एन वक्त पर पहुंचकर रुकवा दी थी. बच्ची को शादी करने के लिए हां कहनी पड़ी, क्योंकि उसके माता-पिता ने पिछले कई महीनों से घर का किराया अदा नहीं किया था. मैलारदेवपल्ली पुलिस थानाक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले काटेदान इलाके में पुलिस और बाल कल्याण अधिकारियों ने बिल्कुल फिल्मी अंदाज़ में ऐन वक्त पर मंदिर पहुंचकर बच्ची को बचाया, जब उसकी शादी की जा रही थी. दिव्यांग व्यक्ति रमेश गुप्ता, उसके पिता चेन्नैया तथा मां पल्ली रामचंद्रम्मा के खिलाफ बाल विवाह एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement