NDTV Khabar

कमलेश तिवारी हत्याकांड: पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कई बड़े खुलासे, चाकू से 15 बार गोदने के बाद मारी थी गोली

रिपोर्ट के अनुसार कमलेश तिवारी के गले पर कई बार चाकू गोदने के गहरे निशान हैं, जबकि उनकी घोपड़ी में एक गोली मारी गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कमलेश तिवारी हत्याकांड: पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कई बड़े खुलासे, चाकू से 15 बार गोदने के बाद मारी थी गोली

कमलेश तिवारी के पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कई बड़े खुलासे

नई दिल्ली:

हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या मामले में पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है. पुलिस के अनुसार इस रिपोर्ट में कई बड़े खुलासे हुए हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि कमलेश तिवारी पर पहले ताबड़-तोड़ 15 बार चाकू से हमला किया गया, उसके बाद उसे गोली मारी गई है. रिपोर्ट के अनुसार कमलेश तिवारी के गले पर कई बार चाकू गोदने के गहरे निशान हैं, जबकि घोपड़ी में एक गोली मारी गई थी. कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले की जांच यूपी पुलिस की स्पेशल टीम कर रही है. इस मामले में अभी तक सात लोगों को गिरफ्तारी की जा चुकी है. यूपी पुलिस की विशेष टीम को उस समय एक और बड़ी कामयाबी हाथ लगी जब  गुजरात एटीएस ने उन्हें फोनकर बताया कि मामले में फरार चल रहे दो कथित हत्यारों को उन्होंने पकड़ लिया है.  दोनों की गिरफ्तारी गुजरात-राजस्थान सीमा से की गई है.

कमलेश तिवारी हत्याकांड: यूपी पुलिस ने कथित दो हत्यारों पर रखा ढाई- ढाई लाख रुपये का ईनाम, पोस्टर भी किया गया जारी 


बता दें कि कमलेश तिवारी की बीते शुक्रवार को लखनऊ में उनके घर में घुसकर हत्या कर दी गई थी. एक दिन पहले ही कमलेश तिवारी की हत्या में शामिल दो लोगों में से किसी एक की सूचना देने वाले को 2.50 लाख रुपये का नगद इनाम दिए जाने की घोषणा की गई थी. अगर यह सूचना दोनों के लिए होगी तो राशि 5 लाख रुपये हो जाएगी. यह ऐलान उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी की ओर से किया गया था.

कमलेश तिवारी की हत्या कर फरार दो आरोपियों की सूचना देने पर 5 लाख रुपये के इनाम का ऐलान

गुजरात एटीएस के डीआईजी हिमांशु शुक्ला ने कहा कि कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) की हत्या के दो वांटेड आरोपी अशफाक और मोइनुद्दीन पठान को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी गुजरात-राजस्थान बॉर्डर के पास शामलाजी से हुई है. उन्होंने कहा कि हमारे पास इनपुट था कि दोनों आरोपी गुजरात में दाखिल हो रहे हैं. इसके बाद हमने सीमा पर दबिश की और उन्हें धर दबोचा.

कमलेश तिवारी हत्याकांड: यूपी पुलिस ने कथित दो हत्यारों पर रखा ढाई- ढाई लाख रुपये का ईनाम, पोस्टर भी किया गया जारी 

गौरतलब है कि दोनों की पहचान कर ली गई थी. दोनों आरोपी सूरत के रहने वाले हैं जहां से तीन और लोगों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. हालांकि पुलिस ने इन दोनों के नामों का पहले खुलासा नहीं किया था. दोनों हत्यारों को लखनऊ में कई जगह लगे सीसीटीवी कैमरों में देखा गया था. गौरतलब है कि शुक्रवार को कमलेश तिवारी को नाका हिंडोला इलाके में उनके कार्यालय में दो लोगों ने गला रेत और फिर गोली मारकर हत्या कर दी थी. शव के पास गुजरात की दुकान की मिठाई का डिब्बा और एक तमंचा बरामद हुआ था. दोनों आरोपियों ने भगवा रंग का कुर्ता पहन रखा था.

योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद बोलीं कमलेश तिवारी की मां- 'उम्मीद के मुताबिक नहीं थे CM के हावभाव', जरूरत पड़ी तो...

टिप्पणियां

बता दें कि बीते रविवार को उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) के परिजनों से रविवार को मुलाकात की थी. कमलेश तिवारी की मां ने इस मुलाकात पर असंतोष जताया था. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्‍यमंत्री ने अपने आवास पर कमलेश तिवारी की मां कुसुमा, पत्‍नी किरण और परिवार के कुछ अन्य सदस्यों से मुलाकात की. इस दौरान उन्‍होंने पीड़ित परिवार को पूरी मदद का आश्‍वासन देते हुए कहा था कि सरकार इस गंभीर मामले की गहराई से जांच कर रही है और इसके दोषी लोगों को कतई बख्‍शा नहीं जाएगा. हालांकि, तिवारी की मां कुसुमा ने इस मुलाकात पर असंतोष जताते हुए कहा कि पुलिस के दबाव की वजह से उन्हें मजबूरन मुख्यमंत्री से मिलने जाना पड़ा. उन्होंने यह भी कहा कि बैठक के दौरान मुख्यमंत्री के हावभाव उनकी उम्मीद के मुताबिक नहीं थे.

VIDEO: उत्तर प्रदेश पुलिस ने कमलेश तिवारी की हत्या के आरोपियों की तस्वीर जारी की



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement