NDTV Khabar

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने लॉन्च किया काशी आतिथ्य मोबाइल ऐप

सीएम योगी ने मेहमानों को दर्शन पूजन में किसी प्रकार का कोई समस्या न हो इसके लिए काशी विश्वनाथ मंदिर के ऑनलाइन दर्शन सुगम दर्शन ऐप का भी शुभारंभ किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने लॉन्च किया काशी आतिथ्य मोबाइल ऐप

यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (फाइल फोटो)

वाराणसी: आगामी 21 जनवरी से 23 जनवरी के बीच 15वां प्रवासी भारतीय दिवस सम्मलेन वाराणसी में होने वाला है. इसके लिए पीएम मोदी ख़ुद भी आएंगे. इसे लेकर सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी लगातार अधिकारियों को दिशा निर्देश देते रहते हैं ताकि तैयारियों में किसी भी प्रकार की कोई कमी ना रहे. सीएम अपने दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन वाराणासी के बड़ालालपुर स्तिथ ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर पहुंचे. यहां सीएम योगी ने सेंटर के कन्वेंशन हॉल में प्रवासी भारतीय दिवस को एतिहासिक बनाने और बनारस के लोगों का इस क्रायक्रम में ज्‍यादा से ज्‍यादा सहभागिता हो इसके लिए काशी आतिथ्य मोबाइल ऐप का शुभारंभ किया. इस ऐप के माध्यम से बनारस के आमजन जो अपने घरों में प्रवासी भारतीय दिवस के अवसर पर अतिथियों को रोकना चाहते हैं, इस ऐप पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. और अतिथि के स्वागत और ऐतिहासिक पल के साक्षी बन सकते हैं.

सीएम योगी ने मेहमानों को दर्शन पूजन में किसी प्रकार का कोई समस्या न हो इसके लिए काशी विश्वनाथ मंदिर के ऑनलाइन दर्शन सुगम दर्शन ऐप का भी शुभारंभ किया. इस ऐप में ऑनलाइन दर्शन और सभी आरतियों की बुकिंग की जा सकती है और स्कॉर्ट दर्शन भी कराया जाएगा. वृद्ध लोगों के लिए ये खास सुविधा है. इसका शुल्क 300 रुपये होगा.

टिप्पणियां
इस मौके पर द ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर में जुटे बुद्धजीवियों के बीच मुख्‍यमंत्री ने कहा, "प्रवासी भारतीय दिवस 21, 22, 23 जनवरी को काशी की धरती पर आयोजित होना है. पूरी दुनिया से 7 से 8 हजार लोग आएंगे. पूरी दुनिया को काशी की संस्कृति दिखाने का अवसर होगा. इसके लिए सभी काशी वासी के लिए जनसहभगिता हो. इसके लिए हम आए हैं, ताकि कार्यक्रम सफल हो, मेहमान के स्वागत का एक भाव पैदा हो. अतिथियों के ठहराने की व्यवस्था के लिए ऐप लॉन्‍च किया गया है. सबको प्रयास करना चाहिए तो 2 हजार परिवार ऐसे रजिस्टर्ड हों जिसके अंदर मेहमानों को ठहराने की व्यवस्था हो.

मुख्‍यमंत्री ने कहा, ये आयोजन केवल सरकारी आयोजन न बने इसके लिए पीएम चाहते हैं कि हर वर्ग की जनसहभागिता हो. जनवरी के लिए अभी से तैयारी करके स्वच्छ और सुंदर काशी तैयार करनी है. हर चौराहे पर सांस्कृतिक कार्यक्रम होता हुआ दिखाई दे. हर वार्ड अतिथि के स्वागत में रंगोली बनाकर सजावट करे. 192 देशों से जुड़े हुए तमाम अतिथि आएंगे. इस अवसर पर वे काशी आना चाहते हैं. हमारा प्रयास होना चाहिए कि उनके देशों के झंडों को लेकर बाइक रैली हो. अच्छा आयोजन होना चाहिए. आज के बाद से कुछ न कुछ आयोजन होते रहना चाहिए. सफाई बेहतरी से हो. इन सब की तैयारी अभी से जुटकर करनी होगी. हर चौराहे पर भारत की हर भाषा से जुड़े साइन बोर्ड लगें ताकि मेहमानों को अपनत्व का एहसास हो. काशी के लोगों ने अच्छे सुझाव दिए हैं. मैं सबका स्वागत करता हूं. हर तबका अपनी अपनी टीम के साथ बैठक कर स्वागत की तैयारी करे.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement