रायबरेली : प्रियंका गांधी मंगलवार को निगमीकरण के खिलाफ आंदोलन कर रहे लालगंज माडर्न कोच कर्मचारियों से मुलाकात करेंगी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अपनी मां एवं पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली के दौरे पर मंगलवार को पहुंच रही हैं.  प्रियंका निजीकरण के खिलाफ आंदोलन कर रहे रेल कोच फैक्टरी के कर्मचारियों से मुलाकात करेंगी.

रायबरेली : प्रियंका गांधी मंगलवार को निगमीकरण के खिलाफ आंदोलन कर रहे लालगंज माडर्न कोच कर्मचारियों से मुलाकात करेंगी

प्रियंका गांधी वाड्रा मंगलवार को रायबरेली जाएंगी

नई दिल्ली:

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अपनी मां एवं पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली के दौरे पर मंगलवार को पहुंच रही हैं.  प्रियंका निजीकरण के खिलाफ आंदोलन कर रहे रेल कोच फैक्टरी के कर्मचारियों से मुलाकात करेंगी. पार्टी सूत्रों ने बताया कि प्रियंका मंगलवार की सुबह अपनी मां सोनिया के निर्वाचन क्षेत्र पहुंचेंगी. वह पहले लालूपुर चौहान गांव में कांग्रेस विधायक अदिति सिंह के आवास पर जाकर पूर्व पार्टी विधायक एवं अदिति के पिता अखिलेश सिंह के निधन पर शोक प्रकट करेंगी. रायबरेली सदर सीट से पांच बार विधायक रहे अखिलेश सिंह का पिछले सप्ताह लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था. सूत्रों ने बताया कि प्रियंका लालगंज स्थित माडर्न कोच फैक्टरी जाएंगी, जहां आंदोलनकारी कर्मचारियों से मुलाकात करेंगी. 

अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीर में बने हालात को लेकर मोदी सरकार पर भड़कीं प्रियंका गांधी, कहा- यह तो राष्ट्र विरोधी होने से भी बड़ा है

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी को महासचिव बनाकर पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी गई थी. लेकिन पार्टी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाई. यहां तक राहुल गांधी भी अमेठी की सीट नहीं बचा पाए थे. लेकिन माना जा रहा है कि कांग्रेस अब उत्तर प्रदेश में खुद को मजबूत करने की कवायद में जुटी हुई है. इसके संकेत प्रियंका गांधी ने लोकसभा चुनाव के दौरान ही दे दी थी जब उन्होंने एक कांग्रेस कार्यकर्ता से पूछा था कि विधानसभा  चुनाव की तैयारी कैसी चल रही है. 

पी चिदंबरम के समर्थन में कांग्रेस ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर लिखा- ऐसी सरकार जो सच बोलने पर...

दरअसल बीते 3 दशकों से कांग्रेस उत्तर प्रदेश में पूरी तरह से साफ हो चुकी है और पार्टी को अहसास हो गया है कि उत्तर प्रदेश में बिना मजबूत हुए केंद्र की सत्ता हासिल करना है. पार्टी अभी तक कभी समाजवादी पार्टी तो कभी बीएसपी के सहारे ही चुनाव लड़ती रही है. लेकिन इस बार के लोकसभा चुनाव में सपा-बसपा ने आपस में गठबंधन तो कर लिया लेकिन कांग्रेस को जगह नहीं दी. माना जा रहा है कि कांग्रेस अब प्रियंका गांधी के दम पर अब खुद को मजबूत करने का प्लान बना रही है.

पी. चिदंबरम के बचाव में उतरे राहुल और प्रियंका गांधी​



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com