NDTV Khabar

राज बब्बर ने कहा, बीएचयू मामले की जांच के लिए सर्वदलीय शिष्टमंडल को भेजा जाए

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख राजबब्बर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि बीएचयू में जिस तरह की घटना हुई उसकी वहां एक सर्वदलीय संसदीय शिष्टमंडल भेजकर जांच करवायी जानी चाहिए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राज बब्बर ने कहा, बीएचयू मामले की जांच के लिए सर्वदलीय शिष्टमंडल को भेजा जाए

खास बातें

  1. राज बब्बर ने बीएचयू मामल को लेकर साधा भाजपा पर निशाना
  2. उन्होंने इस मामले की जांच के लिए सर्वदलीय शिष्टमंडल को भेजने की मांग की
  3. राज बब्बर ने इस मौके पर पीएम मोदी पर भी जमकर निशाना साधा
नई दिल्ली:

कांग्रेस ने बीएचयू सहित देश के शिक्षण संस्थानों का ‘आरएसएस-करण’ करने का आरोप लगाते हुए आज मांग की कि बीएचयू मामले की जांच के लिए वहां एक सर्वदलीय संसदीय शिष्टमंडल भेजा जाना चाहिए तथा बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के कुलपति को स्थायी रूप से छुट्टी पर भेज दिया जाना चाहिए. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख राजबब्बर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि बीएचयू में जिस तरह की घटना हुई उसकी वहां एक सर्वदलीय संसदीय शिष्टमंडल भेजकर जांच करवायी जानी चाहिए और इसकी रिपोर्ट केन्द्र को सौंपी जानी चाहिए क्योंकि यह केन्द्र का मामला है, प्रदेश का नहीं.

यह भी पढ़ें:  राज बब्बर ने कसा भाजपा पर तंज, कहा- ‘बेटी बचाओ’ का नारा बेटी पिटवाओ में बदल गया

उन्होंने कहा कि ‘‘बीएचयू के कुलपति ने जिस तरह से सफेद झूठ बोला है, गलतबयानी की है, मैं चाहता हूं कि देश को मीडिया के जरिए इसकी खबर जरुर जानी चाहिए. आज सारे देश में शिक्षा संस्थाओं का, विश्वविद्यालयों, आईआईटी, चिकित्सा संस्थानों का आरएसएस-करण किया जा रहा है. उन्होंने कहा, ‘‘सबसे बड़ी बात तो यह है कि आरएसएस जिस सोच को बढ़ावा देता है, उस सोच की शुरुआत हो चुकी. पहले विपक्ष को खत्म करना. विपक्ष के ऊपर इस तरह के प्रहार करना कि वह रक्षात्मक मुद्रा में आ जाए. उसके बाद बुद्धिजीवियों के अंदर भय पैदा करना. फिर छात्र. उसके बाद पत्रकारों का समय आने वाला है क्योंकि ये उनका तौर तरीका हैं.’’ 


यह भी पढ़ें: गोरखपुर हादसा: CM योगी आदित्‍यनाथ लगातार झूठ बोल रहे हैं- राज बब्‍बर

टिप्पणियां

कांग्रेस नेता ने कहा कि वाराणसी के आयुक्त द्वारा राज्य के मुख्य सचिव राजीव कुमार को भेजी गयी प्राथमिक जांच रिपोर्ट में कहा गया है कि “बीएचयू प्रशासन ने पीड़िता की शिकायत को संवनेदनशील तरीके से नहीं संभाला। ना ही स्थिति को सही वक्त पर संभाला. इसी वजह से इतना बड़ा बवाल हुआ.’’ राज बब्बर ने बीएचयू के घटनाक्रम के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन, जिला प्रशासन एवं पुलिस एवं उनके अधिकारियों को जिम्मेदार बताया.  उन्होंने कहा, ‘‘कुलपति ने तो यहां तक कहा कि वहां किसी भी तरह का लाठीचार्ज नहीं हुआ है. लाठीचार्ज को दिखाते कई वीडियो उपलब्ध हैं. देश की आजादी के बाद शायद पहली बार ऐसा हुआ कि कुलपति की शह पर एक हजार अज्ञात विद्यार्थियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवायी गयी.’’ 

VIDEO: बच्चों की हत्यारी है यूपी की योगी सरकार: राज बब्बर
उन्होंने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री ने नारा दिया था ‘बेटी पढाओ - बेटी बचाओ’. मैं उनसे पूछना चाहता हूं आपने किस तरह के लोगों के हाथ में बेटियों को दिलवा दिया। मां-बाप ने अपने घरों से इन बच्चियों को भेजा हॉस्टल में और वो भी बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में. उनके अभिभावक कुलपति हैं और वह जिस तरह की भाषा बोल रहे हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement