सरकार की ओर से उठाए गए कदमों के कारण राज्य में कोरोना वायरस के कम मामले : CM योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सरकार की ओर से समय पर की गई कार्रवाई की वजह से राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले कम रहे.

सरकार की ओर से उठाए गए कदमों के कारण राज्य में कोरोना वायरस के कम मामले : CM योगी

विपक्ष की आलोचनाओं पर CM योगी ने कहा कि उन्हें जमीनी हकीकत का एहसास नहीं है.

खास बातें

  • समय पर की गई कार्रवाई की वजह से कोरोना के मामले कम
  • विपक्ष को जमीनी हकीकत का अंदाजा नहीं
  • कहा- उत्तर प्रदेश में अब तक लगभग 8000 मामले सूचित हुए
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सरकार की ओर से समय पर की गई कार्रवाई की वजह से राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले कम रहे. योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब तक लगभग 8000 मामले सूचित हुए हैं. इनमें से 5000 लोग पूर्णतया उपचारित होकर अपने घरों को जा चुके हैं और सक्रिय संक्रमण के मामलों की संख्या लगभग 3000 हैं. उन्होंने कहा कि समय पर बरती गई मुस्तैदी और कोरोना महामारी को लेकर जागरूकता का ही नतीजा है कि इस संक्रमण के मामलों की संख्या उत्तर प्रदेश में कम है.

संक्रमण को रोकने के लिए और प्रयास किए जाने की आवश्यकता को लेकर विपक्ष की आलोचनाओं पर योगी ने कहा कि उन्हें जमीनी हकीकत का एहसास नहीं है और वह अपने एयर कंडीशन ड्राइंग रूम में बैठकर महामारी के बारे में चर्चा कर रहे हैं. इस बीच राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रदेश में वायरस के संक्रमण की जांच क्षमता बढ़कर 15000 सैंपल प्रतिदिन हो गई है और इस महीने के अंत तक यह 20000 सैंपल प्रतिदिन हो जाएगी.

वहीं दिल्ली- NCR में प्रतिबंधों के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली-हरियाणा और उत्तर प्रदेश के NCR क्षेत्र में आवागमन के लिए एक सुसंगत नीति होनी चाहिए. कोर्ट ने कहा कि तालाबंदी के दौरान NCR क्षेत्र में इसके लिए एक समान नीति तैयार करें. एक हफ्ते के भीतर ये एक नीति तैयार हो. इसके लिए तीनों राज्यों की बैठक कराई जाए.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com