NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश : मेरठ नगर निगम की पहली बैठक में 'वंदे मातरम' को लेकर हंगामा

बीजेपी पार्षदों का आरोप है कि सदन में फिल्मी धुन में वंदे मातरम बजाया गया और जब बीजेपी पार्षदों ने वंदे मातरम गाया तब बीएसपी और सपा पार्षद बाहर जाने लगे, इसी को लेकर हंगामा हो गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश : मेरठ नगर निगम की पहली बैठक में 'वंदे मातरम' को लेकर हंगामा

मेरठ नगर निगम की पहली बैठक के दौरान पार्षदों ने मेज पर चढ़कर नारेबाजी की.

मेरठ: मेरठ नगर निगम की पहली बोर्ड बैठक में वंदे मातरम पर हंगामा हुआ. मुस्लिम पार्षद सदन छोड़कर बाहर निकल गए, जबकि बसपा की नवनिर्वाचित मेयर सुनीता वर्मा वंदे मातरम के के दौरान खड़ी रहीं. बीजेपी पार्षदों का आरोप है कि सदन में फिल्मी धुन में वंदे मातरम बजाया गया और जब बीजेपी पार्षदों ने वंदे मातरम गाया तब बीएसपी और सपा पार्षद बाहर जाने लगे, इसी को लेकर हंगामा हो गया. वहीं बीएसपी का कहना है कि बैठक में विकास की बात होनी चाहिए ना कि वंदे मातरम की.

यह भी पढ़ें : 'मां को सलाम नहीं करेंगे तो क्या अफजल गुरु को करेंगे?'

हंगामे के दौरान पार्षदों ने मेज पर चढ़कर नारेबाजी की. इस दौरान कई बाहरी लोग भी सदन के अंदर पहुंच गए. पुलिस ने सदन में पहुंचकर बाहरी लोगों को बाहर निकाला. हंगामे के कारण मात्र एक घंटे में पार्षदों से परिचय प्राप्त करते हुए महापौर ने बैठक समाप्ति की घोषणा कर दी.
 
यह भी पढ़ें : जयपुर नगर निगम ने राष्ट्रगान, राष्ट्रगीत गायन अनिवार्य किया

इससे पहले नगर आयुक्त मनोज कुमार चौहान ने बैठक की शुरुआत की. शुरुआत वंदे मातरम के गायन से हुई. पहली बार सदन में साउंड सिस्टम से वंदे मातरम बजाया गया. चुनाव के बाद शपथ ग्रहण समारोह में वंदे मातरम पर खड़ी नहीं होने वाली महापौर सुनीता वर्मा ने भी इस बार खड़े होकर वंदे मातरम गाया. इस दौरान साउंड सिस्टम में खराबी आने के कारण फिर से हंगामा हो गया. स्थिति कुछ सामान्य होने पर फिर से वंदे मातरम हुआ. बोर्ड बैठक में सांसद राजेन्द्र अग्रवाल और मेरठ (दक्षिण) विधायक सोमेंद्र तोमर भी मौजूद रहे. बैठक के दौरान बैठक स्थल के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस तैनात थी.

VIDEO : मेरठ नगर निगम में वंदे मातरम पर हंगामा


टिप्पणियां
महापौर सुनीता वर्मा ने बताया कि आज बोर्ड की परिचय बैठक थी. बैठक में भाजपाइयों ने एक बार फिर हंगामा किया. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा बोर्ड बैठकों में विकास के मुद्दों की बजाय इधर-उधर के बेकार के मुद्दों को लेकर हंगामा करने की नीयत से ही आती है. महापौर सुनीता वर्मा ने कहा कि भाजपा महापौर चुनाव में अपनी हार अभी तक पचा नहीं पा रही है. भाजपा पार्षदों का आरोप है कि सदन में फिल्मी धुन में वंदे मातरम बजाया गया और जब भाजपा पार्षदों ने वंदे मातरम गाया तब बसपा और सपा पार्षद बाहर जाने लगे, इसी को लेकर हंगामा हो गया. वहीं बसपा का कहना है कि बैठक में विकास की बात होनी चाहिए ना कि वंदे मातरम की. 

(इनपुट : एजेंसी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement