लखनऊ कैंट सीट के उपचुनाव में सपा ने मुलायम सिंह की छोटी बहू का टिकट काटा

विधानसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी ने मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव का टिकट काट दिया

लखनऊ कैंट सीट के उपचुनाव में सपा ने मुलायम सिंह की छोटी बहू का टिकट काटा

लखनऊ कैंट सीट के उपचुनाव में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपर्णा यादव का टिकट काट दिया है.

खास बातें

  • बीजेपी की रीता बहुगुणा जोशी के इस्तीफे के बाद हो रहा उपचुनाव
  • सन 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में अपर्णा यादव पराजित हुई थीं
  • परिवार की गुटबंदी के कारण अपर्णा का टिकट कटने की चर्चा
लखनऊ:

लखनऊ कैंट विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी ने मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव का टिकट काट दिया है. लखनऊ की कैंट विधानसभा सीट पर बीजेपी की रीता बहुगुणा जोशी के इस्तीफे के बाद उपचुनाव होना है. सन 2017 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में अपर्णा यादव ही यहां से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार थीं. रीता जोशी यहां से चुनाव जीती थीं जबकि अपर्णा दूसरे नंबर पर थीं. चूंकि रीता जोशी इलाहबाद से पिछला लोकसभा चुनाव जीत गई हैं इसलिए विधानसभा सीट से उनके इस्तीफे के बाद यह सीट खाली हो गई है.  

अपर्णा यादव यहां से इस बार फिर दावेदार थीं. चूंकि वह मुलायम सिंह की बहू हैं और पिछला चुनाव भी यहां से लड़ चुकी हैं इसलिए भी इस सीट पर उनकी दावेदारी मानी जा रही थी. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कल पार्टी दफ्तर में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों का इंटरव्यू लिया था और आज आशीष चतुर्वेदी की उम्मीदवारी का ऐलान किया गया.

अपर्णा यादव मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना यादव के बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं. ऐसा कहते हैं कि मुलायम सिंह यादव चूंकि अपनी राजनीतिक विरासत अखिलेश यादव को देना चाहते थे और यह भी चाहते थे कि परिवार में अखिलेश के नेतृत्व पर किसी और की दावेदारी न हो इसलिए उन्होंने अपने छोटे बेटे प्रतीक यादव को राजनीति से दूर रखा. प्रतीक बिज़नेस करते हैं. वह मंहगी गाड़ियों के शौक के लिए जाने जाते हैं.

समाजवादी पार्टी ने जारी की एक और लिस्ट, अपर्णा यादव को नहीं मिला टिकट

यादव परिवार में अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल यादव में काफी झगड़ा है. ऐसा मान जाता है कि परिवार के इस झगड़े में मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना यादव शिवपाल का साथ देती हैं. उनकी बहू अपर्णा यादव हालांकि अखिलेश यादव के खिलाफ खुलकर कभी कुछ नहीं बोलती हैं, लेकिन चाचा शिवपाल के लिए उनका भी सॉफ्ट कार्नर माना जाता है.

अब मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव बोलीं- अयोध्या में राम मंदिर बनना चाहिए

यादव परिवार के कुछ करीबी लोग परिवार की इसी गुटबंदी को अपर्णा का टिकट काटने की वजह मानते हैं.

क्या फिर से यादव परिवार में सब कुछ ठीक नहीं? मुलायम के बाद छोटी बहू अपर्णा भी दिखीं चाचा शिवपाल के साथ

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : मुलायम की छोटी बहू अपर्णा भी राजनीति में उतरीं