NDTV Khabar

सपा की टोपी भी लाल है, उसका भी अस्त होने का समय आ गया है : योगी आदित्‍यनाथ

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “पहले लोगों की मान्यता थी कि जहां से गड्ढे शुरू होंगे, वहां से उत्तर प्रदेश शुरू हो जाता है. शाम को जहां से अंधेरा प्रारंभ होता था, लोग मानते थे कि उत्तर प्रदेश प्रारंभ हो गया. आज लोग कह सकते हैं कि जहां से रोशनी शुरू होती है, वहां से उत्तर प्रदेश की सीमा प्रारंभ हो जाती है.”

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सपा की टोपी भी लाल है, उसका भी अस्त होने का समय आ गया है : योगी आदित्‍यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (फाइल फोटो)

नवाबगंज: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को दोहराते हुए रविवार को कहा कि जब सूर्योदय होता है तब सूर्य का रंग केसरिया होता है और सूर्यास्त के समय रंग लाल होता है. समाजवादी पार्टी की टोपी भी लाल है और उसका भी अस्त होने का समय आ गया है. नवाबगंज में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, “समाजवादी पार्टी की सरकार भेदभाव करती थी. बिजली प्रदेश के केवल चार जिलों में मिलती थी और बाकी जिले बिजली से वंचित थे. हमने प्रदेश में बिजली का समान वितरण सुनिश्चित किया.” फूलपुर संसदीय सीट पर उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी कौशलेंद्र सिंह पटेल के समर्थन में योगी ने कहा, “विकास में कोई भेदभाव नहीं होगा. चाहे गोरखपुर हो या इलाहाबाद, लखनऊ हो या आगरा सभी जगह समान रूप से विकास होगा. हमने मात्र 10 महीने में 11 लाख आवास गरीबों को उपलब्ध कराया है. 86 लाख किसानों का कर्जमाफी का कार्य हमने प्रारंभ किया है.”

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “पहले लोगों की मान्यता थी कि जहां से गड्ढे शुरू होंगे, वहां से उत्तर प्रदेश शुरू हो जाता है. शाम को जहां से अंधेरा प्रारंभ होता था, लोग मानते थे कि उत्तर प्रदेश प्रारंभ हो गया. आज लोग कह सकते हैं कि जहां से रोशनी शुरू होती है, वहां से उत्तर प्रदेश की सीमा प्रारंभ हो जाती है.”

मुख्यमंत्री ने कहा, “जो कार्ययोजना हमने शुरू की है, उसके अंतर्गत अगले दो साल में पांच लाख से अधिक नौकरियां प्रदेश सरकार लेकर आ रही है. यह चुनाव प्रदेश के भीतर विकास और सुशासन का एक प्रतिरूप होगा. आपने प्रदेश में सपा का शासन देखा है जिसमें प्रति सप्ताह दो दंगे होते थे. दंगाइयों को प्रश्रय दिया जाता था. वहीं पिछले 11 महीनों में उत्तर प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ.”

होली त्योहार के संदर्भ में उन्होंने कहा, “आपने देखा कि होली और जुमा एक साथ पड़ गया. लोग कहते थे कैसे होगा. हमने कहा कि होली साल में एक बार आती है और जुमा साल में 52 बार होता है. होली का पर्व पूरे सम्मान के साथ मनाया गया. मैं मुस्लिम धर्मगुरुओं को धन्यवाद दूंगा जिन्होंने जुमे का समय 2 घंटे आगे बढ़ाया. मौलवियों ने कहा कि होली साल में एक बार हो रही है तो हम भी इसमें सहयोग करेंगे.”

VIDEO: कैसा है योगी राज : यूपी सरकार के एक साल बाद उठते सवाल...

टिप्पणियां
सभा को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, इलाहाबाद के सांसद श्यामा चरण गुप्ता और पार्टी प्रत्याशी कौशलेंद्र सिंह पटेल ने भी संबोधित किया. फूलपुर संसदीय सीट केशव प्रसाद मौर्य के इस्तीफा देने से खाली हुई है जहां आगामी 11 मार्च को उप चुनाव होना है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share
(यह भी पढ़ें)... छात्रों की जिंदगी से खिलवाड़ क्यों ?

Advertisement