NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश : 25 सूत्रीय मांग पर समाजवादी पार्टी का प्रदेशव्यापी प्रदर्शन नौ अगस्त को

सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने रविवार को बताया कि पार्टी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर आगामी नौ अगस्त को 'क्रांति दिवस' पर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में 25 सूत्रीय मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन आयोजित किया जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश : 25 सूत्रीय मांग पर समाजवादी पार्टी का प्रदेशव्यापी प्रदर्शन नौ अगस्त को

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश की प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) राज्य की कानून-व्यवस्था और अन्य मुद्दों को लेकर आगामी नौ अगस्त को राज्यव्यापी धरना प्रदर्शन करेगी.  सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने रविवार को बताया कि पार्टी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर आगामी नौ अगस्त को 'क्रांति दिवस' पर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में 25 सूत्रीय मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन आयोजित किया जाएगा. चौधरी ने बताया कि धरना कार्यक्रम में पार्टी के सांसदों, विधायकों और कार्यकर्ताओं सहित समाजवादी पार्टी के सभी युवा संगठन, महिला सभा तथा अन्य प्रकोष्ठों के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता भी हिस्सा लेंगे और राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से सौंपेंगे. 

आजम खान की बढ़ीं मुश्किलें, अब लगा लग्जरी रिसॉर्ट के लिए जमीन हड़पने का आरोप


उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के राज में प्रदेश पूरी तरह ‘‘जंगलराज'' में तब्दील हो चुका है. ऐसा कोई जिला नहीं बचा है जहां अपराध का ग्राफ न चढ़ा हो. ऐसा कोई जिला नहीं है, जहां सपा कार्यकर्ताओं को चुन-चुन कर निशाना न बनाया गया हो. अपराधी स्वच्छंद है और भाजपा नेताओं के संरक्षण में पनाह पा रहे हैं. चौधरी ने बताया कि जिन 25 मांगों को लेकर यह प्रदेशव्यापी प्रदर्शन किया जाएगा, उनमें उन्नाव बलात्कार पीड़िता के साथ न्याय और इस प्रकरण में आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को उत्तर प्रदेश के बाहर किसी जेल में स्थानान्तरित करने, सोनभद्र जिले के उम्भा गांव में पिछले महीने सामूहिक कत्लेआम का कारण बनी जमीन को आदिवासियों को आवंटित कर राजस्व अभिलेख में उनका नाम स्थायी रूप से दर्ज करने और सोनभद्र के उम्भा गांव के नरसंहार की घटना की उच्च स्तरीय जांच कराकर दोषी व्यक्तियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने, अपराधियों को तत्काल गिरफ्तार कर फास्ट ट्रेक अदालत के जरिए अविलम्ब सजा दिलाने की मांगें प्रमुख हैं. 

सपा सांसद आजम खान माफी मांग कर बैठे ही थे कि रमा देवी को आ गया गुस्सा, बोलीं-खबरदार!

उन्होंने बताया कि इसके अलावा रामपुर के जौहर विश्वविद्यालय में राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा ‘‘अत्याचार'' तत्काल बन्द करने, सांसद आजम खां के खिलाफ दर्ज ‘‘फर्जी मुकदमे'' समाप्त करने, विधायक अब्दुल्ला आजम खां का ‘‘उत्पीड़न एवं अवैध कार्रवाई'' पर रोक लगाने, इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों के बजाय मतपत्रों से चुनाव की व्यवस्था कराने की मांगें भी शामिल हैं.

उन्नाव मामले पर सरकार कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है: अखिलेश यादव​

टिप्पणियां



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement