NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश में शिक्षामित्र सरकार की बात सुनने को तैयार नहीं, गिरफ्तारी देने की कर रहे हैं तैयारी

उत्तर प्रदेश सरकार ने शिक्षामित्रों को एक अगस्त से 10 हजार रुपये का मानदेय दिए जाने और टीईटी परीक्षा में अधिकतम 25 अंक का वेटेज दिए जाने की घोषणा की है.

500 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश में शिक्षामित्र सरकार की बात सुनने को तैयार नहीं, गिरफ्तारी देने की कर रहे हैं तैयारी

शिक्षामित्र अपनी मांग को लेकर अड़े ( फाइल फोटो )

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्टकी ओर से सहायक अध्यापक के तौर पर समायोजन रद्द होने के बाद से नाराज उत्तर प्रदेश के शिक्षामित्रों का आंदोलन थमने का नाम नहीं ले रहा है. उत्तर प्रदेश सरकार ने शिक्षामित्रों को एक अगस्त से 10 हजार रुपये का मानदेय दिए जाने और टीईटी परीक्षा में अधिकतम 25 अंक का वेटेज दिए जाने की घोषणा की है. इसके बावजूद शिक्षामित्रों ने साफ कर दिया है कि जब तक 'समान कार्य, समान वेतन' की उनकी मांग नहीं मानी जाती तब तक वे आंदोलन पर रहेंगे. शिक्षामित्रों ने बुधवार दोपहर बाद लखनऊ में गिरफ्तारी देने का ऐलान किया है. इस बीच सरकार ने शिक्षामित्रों के इस रुख पर सख्ती बरतते हुए 200 से ज्यादा बसों को प्रदर्शन स्थल के पास तैनात कर दिया है. गिरफ्तारी होने के बाद शिक्षामित्रों को इन्हीं बसों से उनके जिलों तक रवाना कर दिया जाएगा. 

पढ़ें,  लखनऊ में अनिश्चितकालीन सत्याग्रह के लिए लक्ष्मण मैदान पर जुटने लगे शिक्षामित्र

शिक्षामित्रों के प्रदर्शन पर डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने कहा कि शिक्षामित्रों के साथ सरकार की पूरी सहानुभूति है. सरकार लगातार बातचीत की कोशिश में है. केशव मौर्य ने कहा कि शिक्षामित्रों को समझना चाहिए कि यह निर्णय सरकार का नहीं है. शिक्षामित्रों की तकलीफ हम समझ रहे हैं और उसके निवारण में जुटे हैं. उधर प्रदर्शन स्थल लक्ष्मण मेला ग्राउंड में 20 एंबुलेंस भी लगाई गई हैं. मैदान में हजारों शिक्षामित्रों का जमावड़ा है. एहतियातन भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है. 

वीडियो : मांग को लेकर अड़े शिक्षामित्र
शिक्षामित्रों की योजना जेल भरो आंदोलन के तहत लक्ष्मण मेला मैदान से हजरतगंज कोतवाली कूच करने और वहां गिरफ्तारी देने की है. शिक्षामित्रों का आंदोलन 21 अगस्त से लगातार जारी है. बता दें कि सर्वोच्च न्यायालय की ओर से शिक्षा मित्रों का सहायक अध्यापक के तौर पर समायोजन रद्द  कर दिया गया है.

इनपुट : आईएनएस


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement