NDTV Khabar

मायावती ने मुझ पर लगाया था यौन शोषण का आरोप: लखनऊ गेस्ट कांड पर बोले शिवपाल सिंह यादव

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को पटखनी देने के लिए बसपा-सपा का गठबंधन हो गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मायावती ने मुझ पर लगाया था यौन शोषण का आरोप: लखनऊ गेस्ट कांड पर बोले शिवपाल सिंह यादव

शिवपाल सिंह यादव और मायावती (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. शिवपाल सिंह यादव ने मायावती पर हमला बोला.
  2. लखनऊ गेस्ट कांड पर शिवपाल यादव ने तोड़ी चुप्पी
  3. एक रैली को कर रहे थे संबोधित.
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को पटखनी देने के लिए बसपा-सपा का गठबंधन हो गया है. अखिलेश यादव और मायावती ने यूपी में ज्यादा से ज्यादा सीट जीतने के लिए एक साथ आने का मन बना लिया है और राज्य की 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. बीते दिनों लखनऊ में साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती ने यह कहकर गठबंधन का ऐलान किया कि उन्होंने देशहित में लखनऊ गेस्ट कांड का मुद्दा किनारे रख दिया. हालांकि, अब 1995 लखनऊ गेस्ट हाउस कांड पर अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रतिक्रिया आई है. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने मायावती पर लखनऊ गेस्ट कांड को लेकर हमला बोला है. 

उत्तर प्रदेश: शिवपाल को चुनाव लड़ने के लिए मिली 'चाबी', कांग्रेस से दोस्ती के लिए तैयार


1995 लखनऊ गेस्ट हाउस कांड पर शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि 'बहन जी ने मुझ पर यौन शोषण का आरोप लगाया था. मैंने कहा था कि मैं जांच के लिए तैयार हूं, मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं, मेरी शर्त यह है कि नार्को टेस्ट बहन जी का भी होना चाहिए, मेरा भी होना चाहिए.' बता दें कि चंदौली के सकलडीहा में बुधवार को जनसभा को संबोधित करते हुए शिवपाल सिंह यादव ने यह बात कही. दरअसल, मायावती और अखिलेश यादव इस बार लोकसभा चुनाव में एक साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे और बीजेपी को हराएंगे. इस गठबंधन से कांग्रेस को भी झटका लगा है क्योंकि कांग्रेस राष्ट्रीय स्तर पर महागठबंधन की कोशिशों में जुटी है.

बता दें कि इससे पहले समाजवादी पार्टी से अलग होकर नयी पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव ने सपा-बसपा के गठबंधन पर हमला करते हुए रविवार को कहा कि सीबीआई के डर से यह गठजोड़ तैयार हुआ है. शिवपाल ने कहा कि वर्ष 1993 में जब सपा-बसपा का गठबंधन हुआ था, उस वक्त दोनों ही पार्टियों पर कोई आरोप नहीं था और ना ही सीबीआई का कोई डर था. उन्होंने कहा "आज तो सीबीआई का ही डर है. इस डर की वजह से यह गठबंधन हो रहा है. यह गठबंधन सफल नहीं होगा." 

यूपी में सपा-बसपा गठबंधन के बाद शिवपाल यादव ने कांग्रेस को दिया यह ऑफर, कहा- मैं तैयार हूं

टिप्पणियां

शिवपाल ने किसी भी धर्मनिरपेक्ष दल से गठबंधन की इच्छा जताते हुए कहा "अभी हमारी बात तो नहीं हुई है लेकिन जितने भी धर्मनिरपेक्ष दल हैं, उनमें कांग्रेस भी है. अगर कांग्रेस हमसे संपर्क करेगी तो मैं उससे गठबंधन के लिए बिल्कुल तैयार हूं. मालूम हो कि सपा में उपेक्षा की बात कहकर उससे अलग होने के बाद शिवपाल ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया नाम से अलग पार्टी बनाई है. हालांकि वह अब भी जसवंतनगर सीट से सपा के विधायक हैं.

VIDEO: सपा-बसपा के बीच हुआ गठबंधन



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement