NDTV Khabar

शिवपाल यादव ने बनाया समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कही यह बात...

लंबे समय से अखिलेश यादव से नाराज़ चल रहे उनके चाचा और सपा के वरिष्ठ नेता शिवपाल यादव ने अलग समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा बनाया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शिवपाल यादव ने बनाया समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कही यह बात...

शिवपाल यादव.

खास बातें

  1. शिवपाल ने समाजवादी सेकुलर मोर्चा बनाया
  2. उन्होंने कहा कि उपेक्षित लोगों को जोड़ेंगे
  3. शिवपाल बोले कि 2 साल तक सपा में मेरी उपेक्षा हुई
लखनऊ: लंबे समय से अखिलेश यादव से नाराज़ चल रहे उनके चाचा और सपा के वरिष्ठ नेता शिवपाल यादव ने अलग समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा बनाया है. शिवपाल ने कहा कि समाजवादी पार्टी में मेरी उपेक्षा हुई है. हम पार्टी से उपेक्षित लोगों को मोर्चे से जोड़ेंगे. सपा मुखिया अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल ने अपने आवास पर संवाददाताओं से कहा, 'मैंने समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा का गठन किया है. समाजवादी पार्टी में मेरी अवहेलना हो रही थी और मैंने दो साल इंतजार किया. पार्टी के कार्यक्रमों के बारे में ना तो मुझे सूचना दी गई और ना ही कोई आमंत्रण. मुझे कोई जिम्मेदारी भी नहीं दी गई है.'

यह भी पढ़ें : शिवपाल यादव की अखिलेश को नसीहत, बड़ों की बात मानते तो दोबारा सीएम बनते

उधर शिवपाल के नए मोर्चे पर सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि, 'मैं भी नाराज हूं, मैं कहां चला जाऊं. जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आएगा, आप और भी चीजें होती हुई देखेंगे. इस सवाल पर कि क्या शिवपाल के मोर्चा गठित करने के पीछे भाजपा की साजिश है, सपा अध्यक्ष ने कहा, 'इसके पीछे भाजपा है, ऐसा मैं नहीं कहता, पर आज और कल की बात को देख लें तो शक तो जाएगा ही. सपा आगे बढ़ेगी, चाहे जो भी हो.'

यह भी पढ़ें : शिवपाल यादव का छलका दर्द, बोले- 'डेढ़ साल से सड़क पर हूं'

उधर शिवपाल यादव ने कहा कि, 'सपा में कई ऐसे कार्यकर्ता हैं, जिनकी अवहेलना की गई है. उन्हें जिम्मेदारी दी जाएगी और हम उनसे अपने मोर्चे को मजबूत करने के लिए कहेंगे. मोर्चे के तहत छोटी पार्टियों को भी एकजुट करने का प्रयास करेंगे.' यह पूछने पर कि क्या मोर्चा 2019 के लोकसभा चुनाव लड़ेगा, शिवपाल ने कोई जवाब नहीं दिया. जब सवाल किया गया कि क्या सपा संस्थापक और उनके भाई मुलायम सिंह यादव भी मोर्चा में शामिल होंगे, तो शिवपाल ने कहा कि हम उन्हें उचित सम्मान देंगे और अन्य लोगों से भी ऐसा ही करने को कहेंगे.

यह भी पढ़ें : क्या शिवपाल बीजेपी में जाने की तैयारी में थे? दावा- तय थी एक बड़े नेता से मुलाकात

टिप्पणियां
शिवपाल ने कहा, 'मैंने इतना लंबा इंतजार इसलिए किया, क्योंकि सपा को एकजुट रखना चाहता था. हम अब गांवों और जिलों में  जाएंगे और अपने मोर्चा को मजबूत करने के लिए काम करेंगे.' उन्होंने इन अफवाहों का खंडन किया कि वह भाजपा या किसी अन्य दल में शामिल होने जा रहे हैं. मंगलवार की रात सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष एवं प्रदेश की भाजपा सरकार में मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने शिवपाल से मुलाकात की थी, लेकिन दोनों नेताओं ने कहा कि यह मुलाकात व्यक्तिगत थी ना कि राजनीतिक.

बता दें कि सपा से निष्कासित अमर सिंह ने दावा किया था कि उन्होंने भाजपा के शीर्ष नेताओं के साथ शिवपाल की बैठक तय कराई थी लेकिन बैठक नहीं हो पाई क्योंकि शिवपाल आये ही नहीं. उधर शिवपाल यादव के नए मोर्चे पर सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि 2019 चुनाव जैसे-जैसे करीब आएंगे, लोगों को ऐसे कई रंग देखने को मिलेंगे.  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement