NDTV Khabar

उन्नाव रेप केस : जांच के लिए एसआईटी गठित, पीड़िता ने पूछा- विधायक की गिरफ्तारी क्यों नहीं

वहीं इस मामले में कुलदीप सिंह सेंगर ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा है कि उनके ऊपर लगाए जा रहे सारे आरोप निराधार हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उन्नाव रेप केस : जांच के लिए एसआईटी गठित, पीड़िता ने पूछा- विधायक की गिरफ्तारी क्यों नहीं

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने यह जानकारी दी है

लखनऊ: उन्नाव रेप केस मामले में जांच के लिए विशेष टीम (एसआईटी) गठित की गई है. एडीजे लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि इस मामले में कार्रवाई की जरूर की जाएगी. वहीं पीड़िता के पिता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर उनका कहना था कि पेट की झिल्ली फटने और गुदाद्वार में चोट के चलते सेप्टीसीमिया और सदमे की वजह से मौत हुई है. गौरतलब है कि इस मामले में आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई को आज ही गिरफ्तार किया गया है. इससे पहले उसका नाम एफआईआर में नहीं था.  वहीं इस मामले में कुलदीप सिंह सेंगर ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा है कि उनके ऊपर लगाए जा रहे सारे आरोप निराधार हैं. वहीं एएनआई को दिए एक बयान में उन्होंने पीड़ित परिवार को 'निम्न स्तर' का बताया है.

उन्नाव रेप मामला : राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज, यह 'बेटी बचाओ, खुद मारे जाओ' का मामला
 
दरअसल ये मामला उस समय प्रकाश में आया जब पीड़िता ने अपने परिवार के साथ सीएम योगी आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश की थी. इसके बाद यह मीडिया में सुर्खियां बन गया. इसी बीच पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई. आरोप है कि विधायक के भाई ने मृतक के साथ मारपीट की थी जिसमें पुलिसकर्मी भी शामिल हैं. फिलहाल 6 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है और 4 लोग गिरफ्तार किए गए हैं. 

टिप्पणियां
वीडियो : सुप्रीम कोर्ट पहुंचा केस


दूसरी ओर रेप पीड़िता ने कहा है कि विधायक को क्यों नहीं गिरफ्तार किया जा रहा है. उन्होंने जिंदगी बर्बाद कर दी है. दूसरी ओर ये मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. वकील एमएल शर्मा की ओर से दी गई याचिका में मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है.  
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement