छोटी सी पेन-ड्राइव चिन्मयानंद के लिए बन सकती है 'बड़ी-मुसीबत', जानें पूरा मामला

जांच में जुटी एसआईटी भले ही मुंह न खोले, लेकिन चिन्मयानंद (Chinmayanand) की नींद उड़ा देने वाली पीड़ित लड़की और उसके भाई का दावा है कि अगर एसआईटी ने ईमानदारी से जांच की तो 'पेन-ड्राइव' में सब कुछ मौजूद है.

छोटी सी पेन-ड्राइव चिन्मयानंद के लिए बन सकती है 'बड़ी-मुसीबत', जानें पूरा मामला

Chinmayanand Rape Case: पूर्व बीजेपी सांसद चिन्मयानंद (Chinmayananda) के खिलाफ छात्रा ने लगाया है रेप का आरोप.

शाहजहांपुर:

पूर्व बीजेपी सांसद स्वामी चिन्मयानंद (Chinmayanand) मामले में यूपी पुलिस की एसआईटी द्वारा की जा रही उबाऊ और थका देने वाली मैराथन पूछताछ ने पीड़ित लड़की और उसके परिवार को झकझोर कर रख दिया है. परिवार का आरोप है कि एसआईटी की उनसे पूछताछ की स्टाइल ऐसी है जैसे वे अपराधी हैं, जबकि दुष्कर्म के आरोपी और जान से मारने की धमकी देने वाले स्वामी चिन्मयानंद से एसआईटी अभी तक एक बार भी आमना-सामना नहीं कर सकी है. इस बीच खबर यह भी है कि भाई बताने वाले जिस युवक के साथ पीड़िता राजस्थान में पुलिस को मिली थी, उस युवक ने एसआईटी को सोमवार को एक 'पेन-ड्राइव' सौंपी है.

पूर्व BJP सांसद चिन्मयानंद की बढ़ीं मुश्किलें, अब छात्रा ने रेप का आरोप लगाया, दिल्ली पुलिस ने दर्ज की शिकायत

मामले की जांच में जुटी एसआईटी भले ही मुंह न खोले, लेकिन चिन्मयानंद (Chinmayanand) की नींद उड़ा देने वाली पीड़ित लड़की और उसके भाई का दावा है कि अगर एसआईटी ने ईमानदारी से जांच की तो 'पेन-ड्राइव' में सब कुछ मौजूद है. 'सब-कुछ' के बारे में खुलकर कहने वाले युवक का दावा है, 'इस पेन ड्राइव में एक वीडियो है, चिन्मयानंद का असली चेहरा क्या है? जांच में यह सब उजागर करने के लिए पेन-ड्राइव ही काफी है.'

पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री और BJP के चर्चित नेता स्वामी चिन्मयानंद की मुश्किलें बढ़ीं, SIT ने शुरू की जांच

एसआईटी द्वारा युवक से 10-11 घंटे की गई पूछताछ के बाद छनकर बाहर आ रही खबरों के मुताबिक, 'पूरे मामले को लेकर पीड़ित परिवार द्वारा शुरू से ही संदेह की दृष्टि से देखी जा रही यूपी पुलिस और उसकी एसआईटी पेन ड्राइव में से क्या खंगाल कर बाहर ला पाती है? यह देखने वाली बात होगी.' हालांकि सोमवार दोपहर बाद पीड़िता द्वारा शाहजहांपुर में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में साफ-साफ कहा गया था कि 'कॉलेज के हॉस्टल वाला उसका कमरा खोलकर देखा जाए. स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ उस कमरे में तमाम सबूत मौजूद हैं.'

स्वामी चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली छात्रा और उसका भाई अब बरेली में पढ़ेंगे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ऐसे में सवाल यह पैदा होता है कि पीड़िता द्वारा खुद का भाई बताए जा रहे संजय नामक लड़के ने जब पेन-ड्राइव में मौजूद स्वामी चिन्मयानंद से जुड़ी वीडियो क्लिप एसआईटी के हवाले कर दी, तो फिर अब इससे भी ज्यादा मजबूत और क्या सबूत हॉस्टल वाले बंद कमरे में छिपा हो सकता है? सूत्रों के मुताबिक, मंगलवार पूर्वाह्न् में पीड़िता के हॉस्टल वाले बंद कमरे को भी एसआईटी ने खोल दिया. कमरे के अंदर क्या कुछ मिला? इस सवाल का अधिकृत जबाब देने से यूपी पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह से लेकर एसआईटी प्रमुख आईजी नवीन अरोरा तक चुप्पी साधे हुए हैं.

VIDEO: रेप पीड़िता ने चिन्मयानंद के खिलाफ दिल्ली में दर्ज कराई जीरो FIR