NDTV Khabar

सोनभद्र नरसंहार का आंखों देखा हाल: 32 ट्रैक्टरों पर आए थे 200 लोग, आधे घंटे लगातार गोलियां बरसाकर बिछा दीं 10 लाशें

यूपी के सोनभद्र में जमीन से जुड़े विवाद को लेकर हुए नरसंहार मामले में चौंकाने वाली बात सामने आई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सोनभद्र नरसंहार का आंखों देखा हाल: 32 ट्रैक्टरों पर आए थे 200 लोग, आधे घंटे लगातार गोलियां बरसाकर बिछा दीं 10 लाशें

32 ट्रैक्टर पर आए थे 200 लोग, आधे घंटे लगातार गोलियां बरसाकर बिछा दी 10 लाशें

खास बातें

  1. 32 ट्रैक्टर पर आए थे 200 लोग
  2. आधे घंटे लगातार गोलियां बरसाकर बिछा दी 10 लाशें
  3. लोगों ने जमीन पर गिरना शुरू किया, उन्होंने लाठियों से हमला कर दिया
यूपी:

सोनभद्र में जमीन से जुड़े विवाद को लेकर हुए नरसंहार मामले में चौंकाने वाली बात सामने आई है. घटना के प्रत्यक्षदर्शियों ने एनडीटीवी को बताया कि मामले का मुख्य आरोपी यज्ञ दत्त, जमीन पर कब्जा करने के लिए 32 ट्रैक्टर ट्रॉलियों में लगभग 200 लोगों को लाया था. आदिवासियों के विरोध के बाद, उनके लोगों ने आधे घंटे तक उन पर गोलीबारी की. एक महिला ने एनडीटीवी को बताया, 'उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी थी. जैसे ही लोगों ने जमीन पर गिरना शुरू किया, उन्होंने लाठियों से हमला करना शुरू कर दिया. यह बहुत खौफनाक था.' एक और प्रत्यक्षदर्शी ने बताया, 'फायरिंग करीब आधे घंटे चली.'

कर्नाटक का सियासी 'नाटक': JDS-कांग्रेस क्या मानेंगी राज्यपाल की बात? 12 प्वाइंट्स में पढ़ें अब तक क्या-क्या हुआ

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया, 'हम नहीं जानते थे कि वे लोग हथियारों-बंदूकों के साथ आए थे. जब उन्होंने फायरिंग शुरू की. हम खुद को बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे और पुलिस को बुलाना शुरू कर दिया. पुलिस एक घंटे के बाद आई. फायरिंग करीब आधे घंटे चली.'


बता दें कि उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में जमीन से जुड़े विवाद को लेकर हुए नरसंहार में ग्राम प्रधान सहित 11 नामजद और 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, और नरसंहार में इस्तेमाल किए गए हथियारों को पुलिस ने बरामद कर लिया है. इस मामले में ग्राम प्रधान के भतीजे समेत 24 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं. हालांकि, मुख्य आरोपी प्रधान अभी फरार है. 

IMA स्कैम के आरोपी मंसूर खान को ED ने किया गिरफ्तार, वीडियो में किया था दावा- भारत छोड़ना बड़ी गलती थी

टिप्पणियां

16 जुलाई को 32 ट्रैक्टर-ट्रालियों में भरकर प्रधान समेत करीब 300 लोग जमीन पर कब्जा करने पहुंचे थे, और नरसंहार में 10 लोगों की मौत हुई थी, और 23 लोग ज़ख्मी हुए थे. बता दें, उत्‍तर प्रदेश की कानून-व्‍यवस्‍था को चुनौती देती दो दुस्‍साहसिक वारदात से पूरा सूबा दहल गया.

सोनभद्र में बेखौफ दबंगों ने जमीन की खातिर दिनदहाड़े ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर 10 लोगों की हत्‍या कर दी, वहीं सम्‍भल में घात लगाकर बैठे बदमाशों ने दो पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर दी और तीन कैदियों को छुड़ा लिया. राज्‍य विधानमण्‍डल का मॉनसून सत्र शुरू होने से एक ही दिन पहले बुधवार को हुई इन वारदात के बाद से सरकार और पूरा पुलिस महकमा हरकत में है. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने दोनों वारदात पर सख्‍त कार्रवाई के आदेश दिये हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement