सुदीक्षा भाटी मौत मामला : पुलिस ने 2 दर्जन से ज्यादा बुलेट थाने पर मंगवाई, करवाई जा रही है पहचान

Sudiksha Bhati Case: सुदीक्षा के परिवार का आरोप है कि मोटरसाइकिल सवार दो व्यक्ति भाटी का पीछा कर उसे परेशान कर रहे थे जिसके कारण दुर्घटना हुई. 

सुदीक्षा भाटी मौत मामला : पुलिस ने 2 दर्जन से ज्यादा बुलेट थाने पर मंगवाई, करवाई जा रही है पहचान

Bulandshahr Road Accident: पुलिस थाने में खड़ी करवा लीं 2 दर्जन बुलेट

बुलंदशहर :

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में छात्रा सुदीक्षा भाटी की मौत के मामले (Sudiksha Bhati Case) में पुलिस ने संदिग्ध बुलेट की तालाश तेज कर दी है. पुलिस की टीम ने 24 घण्टे में इलाके से दो दर्जन से ज्यादा रॉयल एनफील्ड बुलेट पकड़ी हैं. औरंगाबाद पुलिस ने ये रॉयल एनफील्ड बुलेट पकड़ी हैं. पुलिस बुलेट की पहचान कराकर जांच को आगे बढ़ना चाहती है. बुलेट के मालिकों से भी पूछताछ की जा रही है. सुदीक्षा भाटी के भाई से बुलेट की पहचान करवाई जा रही है. सुदीक्षा मामले का खुलासा करने के लिए तीन सदस्यीय SIT टीम मामले की जांच कर रही है. 

भाषा की एक खबर के मुताबिक, पुलिस ने कहा कि 15-20 मोटरसाइकिल चालकों से पूछताछ की गई. पुलिस ने बुधवार को 15 मोटरसाइकिल मंगवाई और उनके मालिकों को बुलाकर पूछताछ की. पुलिस ने कहा कि सहायक क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी (एआरटीओ) द्वारा जिले में पंजीकृत सभी बुलेट मोटरसाइकिलों के बारे में जानकारी मांगी गई है.

दरअसल, सुदीक्षा भाटी सोमवार की सुबह औरंगाबाद के पास अपने छोटे भाई के साथ मोटरसाइकिल पर जा रही थी जब उसकी मौत हो गई. युवती अमेरिका स्थित बाबसन कालेज की छात्रा थी और 20 अगस्त को वापस जाने वाली थी. सुदीक्षा के परिवार का आरोप है कि मोटरसाइकिल सवार दो व्यक्ति भाटी का पीछा कर उसे परेशान कर रहे थे जिसके कारण दुर्घटना हुई. 

ढेरों दिक्कतों का सामना कर साल 2018 में 12वीं की परीक्षा में 98 प्रतिशत अंक लाने वाली और फिर प्रतिष्ठित अमेरिकी यूनिवर्सिटी में स्नातक पाठ्यक्रम की पढ़ाई करने के लिए छात्रवृत्ति पाने वाली 20-वर्षीय सुदीक्षा भाटी की सोमवार को बुलंदशहर में एक सड़क हादसे में मौत हो गई. इस मामले में कथित छेड़छाड़ के भी आरोप लग रहे हैं, हालांकि पुलिस की ओर से अभी इसकी कोई पुष्टि नहीं की गई है.

सुदीक्षा भाटी मामले में मंगलवार की रात एफआईआर दर्ज कराई गई है. परिवार ने इस मामले में छेड़छाड़ का आरोप लगाया था लेकिन पुलिस की एफआईआर में इसका जिक्र नहीं किया गया है. उत्तर प्रदेश पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, यह एफआईआर सुदीक्षा के पिता की शिकायत के आधार पर दर्ज की गई है. परिवार का कहना है कि बुलेट सवार दो लोगों ने सुदीक्षा और उसके चाचा की बाइक को ओवरटेक करने की कोशिश की थी और सुदीक्षा से छेड़छाड़ की थी. जिसके चलते यह हादसा हुआ है. 

Newsbeep

(भाषा के इनपुट के साथ)

वीडियो: सुदीक्षा मौत मामले में दो लोगों को खिलाफ दर्ज कराई गई रिपोर्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com