गाजियाबाद: पहले बच्चों का किया मर्डर, फिर पत्नी और बिजनेस पार्टनर संग लगाई 8वीं मंजिल से छलांग, आर्थिक तंगी से था परेशान

यह मामला इंदिरापुरम के वैभव खंड का है, आत्महत्या करने वाला गुलशन पिछले कुछ दिनों से आर्थिक तंगी से जूझ रहा था, जिसके चलते उसने मंगलवार की रात यह कदम उठाया.

गाजियाबाद: पहले बच्चों का किया मर्डर, फिर पत्नी और बिजनेस पार्टनर संग लगाई 8वीं मंजिल से छलांग, आर्थिक तंगी से था परेशान

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  • इंदिरापुरम में हत्या और खुदकुशी करने का एक मामला सामने आया
  • आर्थिक तंगी से परेशान शख्स ने अपने दो बच्चों की गला दबाकर हत्या की
  • पत्‍नी और बिजनेस पार्टनर के साथ छत से कूद गया शख्‍स
गाजियाबाद:

इंदिरापुरम के वैभव खंड के कृष्णा सोसायटी में मंगलवार सुबह पांच लोगों की मौत से अफरातफरी मच गई. दिल्ली के गांधी नगर में जींस का कारोबार करने वाले गुलशन बिजनेस में घाटा होने से काफी परेशान चल रहे थे. सोमवार रात पहले उन्होंने अपने दो बच्चों का कत्ल किया फिर अपनी पत्नी प्रवीण और बिजनेस पार्टनर संजना के साथ आठवीं मंजिल से छलांग लगा दी, जिसमें तीनों की मौत हो गई.

दीवार पर लिखा सुसाइड नोट
गुलशन ने मंगलवार सुबह करीब पांच बजे आत्महत्या करने से पहले राकेश को वीडियो कॉलिंग करके पैसा न चुका पाने के लिए माफी मांगी फिर दीवार पर लिखा कि पांचों की लाश को एक साथ जलाना और आत्महत्या का जिम्मेदार राकेश वर्मा है.

उत्तर प्रदेश: CBI ने 100 रुपये घूस मांगने वाले दो डाक अधिकारियों को किया गिरफ्तार

कौन है राकेश वर्मा
राकेश वर्मा गुलशन का रिश्तेदार है. पांच साल पहले राकेश वर्मा ने गुलशन के दो करोड़ रुपए एक प्रॉपर्टी में लगवाए थे. लेकिन प्रॉपर्टी का रेट कम होने से गुलशन को घाटा हो गया. जब गुलशन ने राकेश पर दो करोड़ वापस लेने के लिए केस भी किया था. जिसमें राकेश कुछ दिन पहले जेल भी गए थे. अब इस घटना के बाद राकेश फरार है. दो करोड़ की चपत लगने के बाद गुलशन को जींस के कारोबार में भी खासा घाटा लगा. जिससे उसकी आर्थिक स्थिति खस्ताहाल हो गई थी.

BJP विधायक ने अधिकारी को जड़ा थप्पड़, तो पार्टी ने जारी किया कारण बताओ नोटिस

संजना कौन है?

सोमवार की रात गुलशन ने जब अपने बच्चों का कत्ल किया फिर अपनी पत्नी के साथ आठवीं मंजिल से कूदा तो उसके साथ संजना ने भी आत्महत्या की. पहले पुलिस को लगा कि संजना गुलशन की दूसरी पत्नी है. लेकिन जब गुलशन के रिश्तेदार पहुंचे तो उन्होंने बताया कि गुलशन के जींस कारोबार में संजना उसकी पार्टनर थी. संजना ने भी बिजनेस बढ़ाने के लिए गुलशन को कई लोगों से पैसा कर्ज पर दिलवाया था. यही वजह है कि गुलशन और संजना दोनों पर लिया गया कर्ज वापस करने का दबाव था. 

(आत्‍महत्‍या किसी समस्‍या का समाधान नहीं है. अगर आपको सहारे की जरूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं जिसे मदद की दरकार है तो कृपया अपने नजदीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं.)

हेल्‍पलाइन नंबर:

AASRA: 91-22-27546669 (24 घंटे उपलब्ध)
स्‍नेहा फाउंडेशन: 91-44-24640050 (24 घंटे उपलब्ध)
वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ: 1860-2662-345 और 1800-2333-330 (24 घंटे उपलब्ध)
iCall: 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध: सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)
एनजीओ: 18002094353 दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक उपलब्‍ध)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com