NDTV Khabar

NDTV से बोले गायब लड़की के पिता- मिल रही धमकी, 'पूर्व BJP सांसद चिन्मयानंद के खिलाफ केस को...'

लड़की के पिता ने NDTV से बात करते हुए कहा कि उनपर चिन्मयानंद (Chinmayanand के खिलाफ मामले को कमजोर बनाने के लिए दबाव डाला जा रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. पूर्व गृह राज्य मंत्री हैं स्वामी चिन्मयानंद
  2. शाहजहांपुर पुलिस ने एफ़आईआर दर्ज की
  3. गायब लड़की के पिता ने लगाया आरोप
लखनऊ:

पूर्व गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद (Chinmayanand) के लॉ कॉलेज की एक छात्रा का वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वो रो-रोकर इल्ज़ाम लगा रही हैं कि संत समाज के एक बहुत बड़े नेता ने कई लड़कियों की ज़िंदगी बर्बाद की है...और अब उसकी हत्या कराना चाहते हैं. इसके बाद से लड़की ग़ायब है. लड़की के पिता ने पुलिस को दी तहरीर में चिन्मयानंद पर शारीरिक शोषण का आरोप लगाया. शाहजहांपुर पुलिस ने मामले में चिन्मयानंद (Chinmayanand के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज की है. लड़की के पिता ने NDTV से बात करते हुए कहा कि उनपर चिन्मयानंद के खिलाफ मामले को कमजोर बनाने के लिए दबाव डाला जा रहा है. लड़की के पिता का आरोप है कि उसकी बेटी के गायब होने के पीछे पूर्व बीजेपी सांसद स्वामी चिन्मयानंद का हाथ है. लॉ कॉलेज की छात्रा के गायब होने के तीन दिन बाद मंगलवार को आखिरकार पुलिस ने चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण और आपराधिक धमकी का मामला दर्ज किया. गायब हुई लड़की के परिवार ने पूर्व बीजेपी सांसद के खिलाफ यह मामला दर्ज करवाया है.  

शारीरिक शोषण केस: SC पहुंचा पूर्व BJP सांसद चिन्मयानंद के खिलाफ मामला, कोर्ट ने कहा- याचिका दें, फिर हम देखेंगे


72 साल के चिन्मयानंद का शाहजहांपुर में एक आश्रम है और कस्बे में पांच कॉलेज हैं. वह हरिद्वार और ऋषिकेश में आश्रम भी चलाते हैं. माना जाता है कि उनका साम्राज्य करोड़ों का है, हालांकि इसका कोई आधिकारिक अनुमान नहीं है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित भाजपा के शीर्ष नेताओं के साथ उनके आश्रम के बाहर पोस्टर, पार्टी में उनके प्रभाव को दर्शाता है. बता दें कि चिन्मयानंद ने आखिरी बार 1999 में चुनाव जीता था.

पूर्व BJP सांसद चिन्मयानंद के खिलाफ FIR दर्ज, शोषण का आरोप लगाने वाली लड़की के गायब होने का है मामला

लड़की के पिता ने कहा कि FIR दर्ज होने के बाद से पुलिस ने हमसे अब तक कोई संपर्क नहीं किया है. न तो एसपी साहब का फोन आया है और न ही डीएम की तरफ से कोई फोन आया है. उन्होंने कहा कि कल हमें अचानक बुलाया गया कुछ क्लिपिंग दिखाई, वो वीडियो क्लिप संदिग्ध थी. मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि ये मेरी लड़की है या नहीं. डीएम और एसपी हम पर प्रेशर डाल रहे थे कि हम तहरीर बदल दें. उन्होंने कहा कि कुछ धाराओं में उन्हें बचाया भी गया है. उन्होंने कहा कि हमने पुलिस में जो तहरीर दी उसमें से कई धाराओं को लगाया भी नहीं गया है.  

उन्नाव मामला: नाबालिग से रेप के मामले में POCSO एक्ट के तहत कुलदीप सेंगर पर आरोप तय
 
छात्रा के पिता ने आरोप लगाया कि अटल बिहारी सरकार में मंत्री रहे स्वामी चिन्मयानंद बहुत प्रभावशाली और मुख्यमंत्री के करीबी हैं. उनका पूरा दबाव है. इस बात का जिक्र मेरी लड़की ने भी वीडियो में किया है. मेरी लड़की वीडियो में कह रही है कि डीएम और एसपी उसकी जेब में हैं. वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का 'खास आदमी' है. उन्होंने कहा कि चाहे वह मृत मिले या जीवित मिले, वीडियो उसका प्रमाण है. उन्हें चाहिए उसे खोजें और उसका बयान दर्ज करें.

पीएम मोदी के लिए छपे पोस्टर पर आरोपी विधायक की तस्वीर देख भड़कीं प्रियंका गांधी, कहा- अब तो हद ही हो गई...

उधर, चिन्मयानंद के वकील ने आरोप लगाया है कि महिला और उसके पिता स्वामी जी की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं. लड़की के पिता ने कहा कि मैं चाहता हूं कि मेरी बेटी मिल जाए. मैं क्या कर सकता हूं? मैं थक गया हूं. मैं पांच दिनों से भाग रहा हूं.'

टिप्पणियां

झूठ पकड़ने वाली जांच के बाद अब CBI पीड़िता को टक्कर मारने वाले ट्रक चालक, हेल्पर का करा सकती है नार्को टेस्ट

बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने पिछले साल चिन्मयानंद के शाहजहांपुर आश्रम का दौरा किया था. बाद में, यूपी सरकार ने चिन्मयानंद के खिलाफ पहले से दर्ज बलात्कार का मुकदमा वापस लेने की कोशिश की थी. चिन्मयानंद पर 2011 में बलात्कार का मामला दर्ज किया गया था और यह मामला 2012 में अदालत में गया था. उनके आश्रम में रहने वाली एक महिला ने उन पर दुर्व्यवहार और यौन शोषण का आरोप लगाया था. जुलाई में, एक स्थानीय अदालत ने यूपी सरकार को चिन्मयानंद के खिलाफ बलात्कार के मामले को वापस लेने की अपील को अस्वीकार कर दिया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement