NDTV Khabar

तुलसीदास जी ने अकबर को कभी भी राजा नहीं माना, उनके सम्राट भगवान राम थे : CM योगी आदित्यनाथ

1.4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
तुलसीदास जी ने अकबर को कभी भी राजा नहीं माना, उनके सम्राट भगवान राम थे  : CM योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी आदित्यनाथ का गोरखपुर में आज दूसरा दिन है...

खास बातें

  1. गोरखपुर की जनता के बीच पहुंचे योगी का जोरदार स्वागत
  2. सीएम योगी आदित्यनाथ का गोरखपुर में दूसरा दिन है
  3. दूसरे दिन गंभीरनाथ शताब्दी पुण्यतिथि समारोह में शामिल हुए सीएम योगी
गोरखपुर: मुख्यमंत्री बनने के बाद शनिवार को पहली बार गोरखपुर की जनता के बीच पहुंचे योगी का जोरदार स्वागत किया गया था. सीएम योगी आदित्यनाथ का गोरखपुर दौरे का दूसरा दिन है. दूसरे दिन गोरखनाथ मंदिर के दिग्विजय स्मृति सभागार में रविवार को बाबा गंभीरनाथ शताब्दी पुण्यतिथि का समापन समारोह शुरू हुआ. मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी समारोह में शामिल हुए और कार्यक्रम की अध्यक्षता की. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इस दौरान आदित्यनाथ योगी ने कहा, 'तुलसीदास जी ने कभी अकबर को राजा नहीं माना, उनका कहना था कि उनके राजा भगवान राम हैं.'    मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के गोरखपुर दौरे का आज दूसरा दिन है. दिन की शुरुआत उन्होंने गायों को चारा खिलाने के साथ की. आज ही गोरखनाथ मठ में भव्य जश्न का आयोजन किया गया है जिसमें गृहमंत्री राजनाथ मुख्य अतिथि होंगे. इससे पहले शनिवार को गोरखनाथ पहुंचने पर योगी आदित्यनाथ का भव्य स्वागत हुआ. लोगों को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने भी आश्वासन दिया कि उनकी सरकार किसी का तुष्टिकरण नहीं करेगी. सीएम योगी ने कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जाने वाले यात्रियों को एक लाख रुपये का अनुदान देने का एलान किया.

साथ ही कैलाश मानसरोवर भवन के निर्माण का भी वादा किया. अपने भाषण में सीएम योगी ने कानून व्यवस्था को लेकर लोगों को भरोसा दिलाया. उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है.   

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘एक बड़ी योजना के साथ हम कार्य प्रारंभ करने वाले हैं. उत्तर प्रदेश का कोई व्यक्ति चाहे वह किसी तबके या क्षेत्र का हो, कभी भी अपने को उपेक्षित महसूस नहीं करेगा.’’ उन्होंने कहा कि सरकार निरंतर कार्य कर रही है. कुछ निर्णय लिये लेकिन हो सकता है कि तमाम लोग तमाम प्रकार की बातें कर रहे हों. ‘‘सबको बताना चाहता हूं कि भाजपा के लोक कल्याण संकल्प पत्र में जो बातें कही हैं, हम अक्षरश: उनका अनुपालन करेंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement