NDTV Khabar

उन्नाव केस में कुलदीप सेंगर के बाद BJP के एक और नेता का नाम आया सामने, FIR में 'आरोपी नंबर-7' है ये शख्स

उन्नाव केस (Unnao Case) में भारतीय जनता पार्टी के विधायक कुलदीप सेंगर (Kuldeep Sengar) के बाद BJP के एक और नेता का नाम सामने आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उन्नाव केस में कुलदीप सेंगर के बाद BJP के एक और नेता का नाम आया सामने, FIR में 'आरोपी नंबर-7' है ये शख्स

अरुण सिंह (बाएं से दूसरा) उन्नाव रेप पीड़िता के परिवार द्वारा दायर शिकायत में एक आरोपी है.

खास बातें

  1. उन्नाव मामले में अब नया मोड़ सामने आया
  2. एफआईआर में बीजेपी के एक और नेता का नाम
  3. अरुण सिंह BJP कार्यकर्ता, यूपी के मंत्री का दामाद है
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के उन्नाव की रेप पीड़िता (Unnao Rape Survivor) तीन दिन पहले हुए सड़क हादसे में गंभीर रूप से ज़ख्मी होने के बाद से जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है. बीते रविवार को हुए सड़क हादसे में पीड़िता के परिवार के दो लोगों की मौत हो गई. उधर मामले में अब एक नया मोड़ सामने आया है. पुलिस शिकायत में अब मामले में बीजेपी के एक और नेता के शामिल होने की बात सामने आई है. यूपी के रायबरेली में रेप पीड़िता के कार को उल्टी दिशा से आ रही ट्रक ने सामने से टक्कर मार दी थी. ट्रक का नंबर प्लेट भी मिटा हुआ था. मामले की जांच सीबीआई कर रही है. 

यह भी पढ़ें: कोर्ट तय नहीं, जज भी नदारद - बस, लंबित पड़ा है उन्नाव रेप पीड़िता का केस

रेप पीड़िता के चाचा द्वारा की तरफ से दर्ज कराई गई एफआईआर में रेप के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर को हादसे के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था. एफआईआर में दर्ज आरोपियों के नामों के करीब से जांच करने पर पता चला है कि एक और बीजेपी नेता दुर्घटना में आरोपी है.


यह भी पढ़ें: CBI ने उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुई दुर्घटना मामले में कुलदीप सिंह सेंगर और अन्य 10 के खिलाफ दर्ज किया मामला 

पीड़िता के चाचा की तरफ से दर्ज कराए गए एफआईआर में 'आरोपी नंबर-7' अरुण सिंह है जो बीजेपी कार्यकर्ता है और उन्नाव में एक ब्लॉक का अध्यक्ष है. अरुण सिंह आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर का भी करीबी है. 2019 लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान अरुण सिंह को बीजेपी प्रमुख अमित शाह और उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज जैसे शीर्ष नेताओं के साथ फोटो और वीडियो में देखा जा सकता है.

यह भी पढ़ें: Unnao Rape Case: पीड़िता की हालत अभी भी नाजुक, डॉक्टर ने बताई पूरी स्थिति

अरुण सिंह यूपी के मंत्री रणवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ 'धुन्नी भैया' के दामाद हैं. रणवेंद्र प्रताप सिंह यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार में कृषि राज्य मंत्री और कृषि शिक्षा एवं शोध मंत्री हैं. रणवेंद्र सिंह फतेहपुर जिले की एक सीट से बीजेपी विधायक हैं. बता दें कि यह वही जगह है जहां के ट्रक मालिक और ड्राइवर हैं. अब तक हालांकि सिंह के दोनों में से किसी से जोड़ने का कोई सबूत नहीं है. सीबीआई की एफआईआर में भी इस बात की जिक्र है कि अरुण सिंह और कुछ और लोग रेप पीड़ित परिवार को धमका रहे थे कि वह केस वापस ले ले. 

यह भी पढ़ें: उन्नाव मामले पर बोलीं प्रियंका गांधी, अब बीजेपी नेताओं की लीपापोती सामने आ रही है, हम मजबूती से...

उधर, रणवेंद्र सिंह ने कहा, 'सीबीआई मामले की जांच कर रही है. जांच में सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा. वह मेरे रिश्तेदार हैं इसमें कोई शक नहीं है, लेकिन यह कोई अपराध नहीं है. पीड़िता का आरोप है कि कुलदीप सिंह सेंगर और उसके सहायकों ने वर्ष 2017 में उसके साथ रेप किया था, जब वह उनके पास नौकरी मांगने गई थी. उसने अपने आरोप अप्रैल, 2018 में सार्वजनिक किए थे, जब उसने धमकी दी कि अगर पुलिस ने उसका केस दर्ज नहीं किया, तो वह लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर आत्महत्या कर लेगी.

टिप्पणियां

VIDEO: उन्नाव केस: सीबीआई ने दर्ज की FIR​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement