NDTV Khabar

उन्‍नाव गैंगरेप केस : भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ चार्जशीट दायर
पढ़ें | Read IN

गौरतलब है कि रेप पीड़िता और उसके परिजनों ने इसी साल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर खुदकुशी की कोशिश की थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उन्‍नाव गैंगरेप केस : भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ चार्जशीट दायर

भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (फइल फोटो)

खास बातें

  1. मई में CBI ने सेंगर के खिलाफ एक और केस दर्ज किया था
  2. सेंगर को 13 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था
  3. रेप पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी
लखनऊ: उन्‍नाव रेप कांड में सीबीआई ने चार्जशीट दायर कर दी है. जांच एजेंसी ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को नामजद आरोपी बनाया है. लखनऊ में एक विशेष सीबीआई अदालत में दायर आरोपपत्र में सेंगर और उसके सहयोगी शशि सिंह पर आपराधिक षड्यंत्र और भारतीय दंड संहिता के अन्य अपराधों के आरोप लगाये गए हैं. इसके साथ ही उन पर पॉक्सो कानून की धारा तीन और चार के तहत भी आरोप लगाये गए हैं जो कि नाबालिगों से बलात्कार से संबंधित है. यह घटनाक्रम तब आया है जब नाबालिग लड़की से कथित बलात्कार की जांच तीन महीने पहले सीबीआई को सौंपी गई थी जिसे नौकरी का वादा करके राजनेता के घर पर ले जाया गया था.

अधिकारियों ने दावा किया कि जांच एजेंसी ने पाया कि नाबालिग लड़की से विधायक के आवास पर चार जून 2017 को रात आठ बजे बलात्कार किया गया जहां उसे शशि सिंह लेकर गया था. अधिकारियों ने कहा कि एजेंसी ने आरोप लगाया है कि उसके बाद लड़की से 11 जून और 20 जून 2017 के बीच अलग-अलग समूह के आरोपियों द्वारा सामूहिक बलात्कार किया गया जिसकी जांच भी सीबीआई द्वारा की जा रही है. अधिकारियों ने कहा कि स्थानीय पुलिस ने विधायक द्वारा कथित बलात्कार के संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज नहीं की थी जो चार जून को हुआ था. उन्होंने सामूहिक बलात्कार के संबंध में ही एक प्राथमिकी दर्ज की. उन्होंने कहा कि चिकित्सकों, पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारियों की भूमिका की अभी भी जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि पीड़िता ने आरोप लगाया है कि विधायक ने उससे बलात्कार किया था. चार बार के विधायक एवं उत्तर प्रदेश विधानसभा में बांगरमऊ का प्रतिनिधित्व करने वाले सेंगर को 13 अप्रैल को गिरफ्तार कर लिया गया था.

गौरतलब है कि रेप पीड़िता और उसके परिजनों ने इसी साल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर खुदकुशी की कोशिश की थी, और उसी के बाद इस मामले ने तूल पकड़ा था. नाबालिग पीड़िता और उसके परिजनों का आरोप था कि BJP विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने पिछले साल जून में लड़की से रेप किया था. पीड़िता ने यह आरोप भी लगाया था कि इस मामले में FIR दर्ज करवाने के बाद उसे और उसके परिवार को लगातार धमकियां दी जा रही थीं. इसके कुछ ही दिन बाद रेप पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी, और उसी के बाद बेहद दबाव में आने पर ही विधायक की गिरफ्तारी की गई थी. पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत के सिलसिले में थाना प्रभारी समेत छह पुलिसवालों को सस्पेंड किया गया था, और पिटाई करने के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था.

ब्‍लॉग : राम होते तो उन्नाव देख शर्मसार होते...

इसी साल मई महीने में सीबीआई ने सेंगर के खिलाफ एक और केस दर्ज किया था. पीड़िता के पिता को फर्जी मुकदमे में जेल भेजने के आरोप में उन्‍नाव जिले की बांगरमऊ सीट से BJP विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को आरोपी बनाया गया था.

योगी सरकार ने उन्नाव रेप केस के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की 'Y' कैटेगरी सुरक्षा वापस ली

रेप पीड़िता के पिता का एक वीडियो वायरल हो गया था, जिसमें दिखाया गया था कि थाने में किस प्रकार मेडिकल जांच हो रही है और कैसे विधायक का भाई वहीं बैठा हंस रहा है. फिलहाल कुलदीप सिंह सेंगर रेप के मामले में CBI की हिरासत में हैं. कुलदीप सिंह सेंगर लगातार चार बार से उत्तर प्रदेश में विधायक बनते रहे हैं, जिनमें वे तीन अलग-अलग निर्वाचन क्षेत्रों से चुने गए हैं.

VIDEO: उन्‍नाव रेप केस: बीजेपी MLA कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ FIR दर्ज

कुलदीप सिंह सेंगर ने राजनीति की शुरुआत कांग्रेस से की थी और सेंगर ने वर्ष 2002 का चुनाव कांग्रेस की टिकट पर उन्‍नाव से जीता था. इसके बाद कांग्रेस का साथ छोड़कर 2007 में सेंगर ने BSP की टिकट पर बांगरमऊ विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की, लेकिन मायावती से भी ज्‍यादा वक्त तक नहीं बनी और सेंगर ने पार्टी छोड़ दी.

कुलदीप सिंह सेंगर : 2007 में थी 36 लाख की संपत्ति, अब हैं करोड़ों के मालिक, 21 बड़ी बातें

टिप्पणियां
'हाथी' का साथ छोड़ने के बाद कुलदीप सेंगर ने 'साइकिल' की सवारी शुरू की, और 2012 का विधानसभा चुनाव समाजवादी पार्टी की टिकट पर लड़ा. मुलायम ने सेंगर को भगवंत नगर सीट से टिकट दी, और यहां कुलदीप की जीत हुई. इसके बाद राज्‍य में बदलते माहौल को भांपकर कुलदीप सिंह सेंगर ने समाजवादी पार्टी का साथ छोड़कर BJP का दामन थाम लिया.

उत्‍तर प्रदेश में 2017 में हुआ विधानसभा चुनाव कुलदीप सेंगर ने BJP की टिकट पर बांगरमऊ सीट से लड़ा, और चौथी बार जीत हासिल की. कुलदीप सिंह सेंगर ने 2007 में चुनावी घोषणापत्र में अपनी कुल संपत्ति 36 लाख बताई थी और 2012 में यही संपत्ति एक करोड़ 27 लाख की हो गई. वहीं 2017 के चुनावी घोषणापत्र के मुताबिक, सेंगर की संपत्ति 2 करोड़ 14 लाख तक पहुंच गई.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement