NDTV Khabar

यूपी में शादी का रजिस्ट्रेशन होगा जरूरी, आवेदन पत्र में भरना होगा पति-पत्नी का आधार नंबर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में विवाहों का पंजीकरण अनिवार्य करने का फैसला किया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी में शादी का रजिस्ट्रेशन होगा जरूरी, आवेदन पत्र में भरना होगा पति-पत्नी का आधार नंबर

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में होने वाले विवाहों का पंजीकरण अनिवार्य करने के एक प्रस्ताव को मंगलवार को मंजूरी दे दी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में यह फैसला किया गया. बैठक के बाद राज्य सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया कि मंत्रिपरिषद ने 'उत्तर प्रदेश विवाह पंजी​करण नियमावली 2017' को लागू करने का प्रस्ताव मंजूर किया है.

यह भी पढ़ें : यूपी में शादी कीजिए, योगी सरकार से पाइए 20 हजार रुपए और स्मार्टफोन

विज्ञप्ति के मुताबिक, 'नियमावली के प्रारंभ होने के पश्चात संपन्न विवाह या पुनर्विवाह, जहां विवाह के पक्षकारों में से कोई एक उत्तर प्रदेश राज्य का स्थायी निवासी हो अथवा विवाह उत्तर प्रदेश राज्य की सीमा में संपन्न हुआ हो, का पंजीकरण कराया जाना अनिवार्य होगा.'

टिप्पणियां

VIDEO : नशेड़ी पतियों को सबक सिखाने के लिए खास तोहफा
विवाह के पक्षकार स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग की वेबसाइट पर निर्धारित प्रारूप पर या राज्य सरकार द्वारा समय समय पर निर्धारित प्रारूप पर पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर विवाह का पंजीकरण करा सकेंगे. आवेदन पत्र में पति एवं पत्नी का आधार कार्ड नंबर भरा जाना अनिवार्य होगा.


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Ind Vs NZ: विराट कोहली ने खड़े होकर दिखाया गुस्सा फिर बैठकर करने लगे डांस, देखें TikTok Viral Video

Advertisement