प्रदेश अध्यक्ष को जेल भेजे जाने के खिलाफ महाअभियान चलाएगी UP कांग्रेस

कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा ने मंगलवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गैरकानूनी ढंग से जेल भेजने के खिलाफ पार्टी महाअभियान चलाएगी.

प्रदेश अध्यक्ष को जेल भेजे जाने के खिलाफ महाअभियान चलाएगी UP कांग्रेस

राज्य कांग्रेस अपने अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को 'गैरकानूनी' ढंग से जेल भेजने के खिलाफ महाअभियान चलाएगी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • प्रदेश अध्यक्ष को गैरकानूनी ढंग से जेल भेजने के खिलाफ अभियान चलाएगी
  • कहा- हम गांव-गांव हर गरीब की झोपड़ी तक अपनी बात ले जाएंगे
  • हम एक जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने अपने अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को 'गैरकानूनी' ढंग से जेल भेजने के खिलाफ महाअभियान चलाने का एलान किया है. कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा ने मंगलवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गैरकानूनी ढंग से जेल भेजने के खिलाफ पार्टी महाअभियान चलाएगी. हम गांव-गांव हर गरीब की झोपड़ी तक अपनी बात ले जाएंगे और लोगों की सेवा करेंगे.' उन्होंने कहा, ‘लल्लू की जमानत याचिका को विशेष अदालत ने खारिज कर दिया है. हमें न्यायपालिका में पूरा विश्वास है और हमारे प्रदेश अध्यक्ष को इंसाफ मिलेगा. हम एक जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार राजनीतिक द्वेष और गरीब विरोधी मानसिकता का परिचय दे रही है.'

आराधना ने कहा कि लाखों जरूरतमंदों तक भोजन और राशन पहुंचाने वाले, हजारों मजदूरों को उनके घरों तक लाने वाले, गरीबों-मजदूरों के मददगार अजय कुमार लल्लू का आखिर अपराध क्या है? उन्होंने कहा कि लल्लू ने जरूरतमंदों की मदद की. मजदूरों को राहत दिलाने के लिए बसों का बंदोबस्त किया। मगर सेवा कार्य से बौखलाई योगी सरकार ने महासचिव प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह और कांग्रेस के 90 से अधिक नेताओं पर फर्जी मुकदमे दर्ज कराए हैं. हालांकि फर्जी मुकदमे और जेल की सलाखें सेवाकार्य को रोक नहीं पाएगीं.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विधान परिषद सदस्य नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने इस मौके पर कहा कि कांग्रेस ने अब तक पूरे प्रदेश में 90 लाख से अधिक लोगों तक राशन और भोजन पहुंचाया और 10 लाख प्रवासी श्रमिकों की मदद की. करीब 22 जिलों में साझी रसोईघर चलाया गया, राजमार्ग पर 40 स्टॉल्स लगाकर नाश्ता और खाना वितरित किया गया. यह सब प्रदेश अध्यक्ष लल्लू के नेतृत्व में हुआ. हमारा संकल्प है कि हम भाजपा सरकार के दमन के आगे नहीं झुकेंगे. सिद्दीकी ने आरोप लगाया, ‘भाजपा के नेता और कार्यकर्ता रोजाना सामाजिक दूरी और अन्य नियमों की धज्जियां उड़ाते हैं. अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रम करते हैं लेकिन एक भी नेता गरीबों की सेवा करता नहीं दिखा है.'

कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष वीरेंद्र चौधरी ने आरोप लगाया कि योगी आदित्यनाथ की ‘गरीब-मजदूर विरोधी' सरकार नहीं चाहती कि श्रमिकों को राहत मिले. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता सेवा कार्य को और तेज कर रहे हैं. भाजपा सरकार चाहे जितना दमन करे मगर हम सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. उल्लेखनीय है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पिछले माह प्रवासी श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिये भेजी गयी एक हजार बसों में से कई वाहनों के पंजीयन संख्या में कथित रूप से गड़बड़ी पाये के बाद धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. विशेष एमपी-एमएलए अदालत ने सोमवार को उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी. पार्टी ने कहा है कि वह निचली अदालत के इस निर्णय को उच्च न्यायालय में चुनौती देगी.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com