NDTV Khabar

गौहत्या रोकने में हुए नाकाम तो UP के थानेदार ने अपने ही खिलाफ दर्ज की शिकायत

मेरठ के एक थानाध्यक्ष ने अपने काम में लापरवाही स्वीकार करते हुए अपने ही थाने की जीडी (जनरल डायरी) में अपने और अपने साथी पुलिसकर्मियों के खिलाफ तस्करा (शिकायत) दर्ज कर डाला.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गौहत्या रोकने में हुए नाकाम तो UP के थानेदार ने अपने ही खिलाफ दर्ज की शिकायत

एसएचओ राजेंद्र त्यागी ने मेरठ के थाना खरखोदा का प्रभार लेने से पहले कुछ नियम बनाए थे..

मेरठ : मेरठ के एक थानाध्यक्ष ने अपने काम में लापरवाही स्वीकार करते हुए अपने ही थाने की जीडी (जनरल डायरी) में अपने और अपने साथी पुलिसकर्मियों के खिलाफ तस्करा (शिकायत) दर्ज कर डाला. मामला सामने आने के बाद पुलिस महकमे में यह घटना चर्चा का विषय बनी हुई है.
 
दरअसल, एसएचओ राजेंद्र त्यागी ने मेरठ के थाना खरखोदा का प्रभार लेने से पहले कुछ नियम बनाए थे. उन्होंने इस थाना क्षेत्र में अपराध की घटनाएं होने पर खुद समेत विभिन्न पुलिसकर्मियों की जवाबदेही तय की थी. उनके नियम के अनुसार, जो भी कर्तव्य निर्वह में लापरवाही बरतेगा उसके खिलाफ जीडी में तस्करा दाखिल किया जाएगा. अगर यह लापरवाही दो बार से ज्यादा पाई गई तो उस पुलिसकर्मी की शिकायत उच्च अधिकारियों को भेजी जाएगी और उच्च अधिकारी उस पर अपनी कार्रवाई करेंगे, चाहे दोषी पुलिसकर्मी खुद थानाध्यक्ष ही क्यों न हो.

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पुलिस ने रोकी नाबालिग लड़की की शादी 

खरखौदा के थाना अध्यक्ष त्यागी के अनुसार, थाने का कामकाज संभालने के बाद से अब तक उनके क्षेत्र में छह छोटी-छोटी चोरियां हो चुकी है, जिनमें उन्होंने छह कांस्टेबल के खिलाफ जीडी में तस्करा दाखिल किया है. उन्होंने बताया कि आज उनके क्षेत्र में गौकशी हुई है, जिसमें उन्होंने बीट कांस्टेबल, हल्का प्रभारी और स्वयं अपने आप को जिम्मेदार मानते हुए अपने ही थाने की जीडी में अपने और बीट कांस्टेबल अनिल तेवतिया, हल्का प्रभारी प्रेम प्रकाश, एसआई चंद किशोर, रात्रि प्रभारी दरोगा सुनील, कांस्टेबल आजाद और नीलेश के खिलाफ तस्करा दाखिल किया है. उन्होंने अपने क्षेत्र के 19 गौ तस्करों के खिलाफ मामला भी दायर किया और अब उनकी धरपकड़ के लिए दबिश दी जा रही है.

यह भी पढ़ें :  चलती बस में महिला से छेड़छाड़ कर रहा था शख्स, पहचान पता चली तो उड़ गए होश, गिरफ्तार

टिप्पणियां
इस मामले में संपर्क किये जाने पर एसएसपी राजेश पांडे ने थाना अध्यक्ष राजेंद्र त्यागी के इस कदम की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने अपने ही बनाए हुए नियम का सख्ती से पालन किया. ऐसे पुलिसकर्मियों के लिए एक मिसाल पेश की जो अपने कार्य के प्रति लापरवाही बरतते हैं. 

(इनपुट : भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement