NDTV Khabar

इटावा : महिला होमगार्ड बोलती रहीं मेरा बेटा चोर नहीं, पुलिसवाले पीटते रहे, हो गई मौत

महिला होमगार्ड का कहना है वह पुलिसवालों ने बेटे के बेकसूर होने की बात कहती रही पर किसी ने उसकी नहीं सुनी और महिला होमगार्ड को पुलिस वाले थाने लेकर गए और उसके बेटे को खेत में ले जाकर उसकी जमकर पिटाई की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इटावा : महिला होमगार्ड बोलती रहीं मेरा बेटा चोर नहीं, पुलिसवाले पीटते रहे, हो गई मौत

महिला होमगार्ड के बेटे को पुलिस ने चोरी का आरोप लगाकर पीटा, हुई मौत

खास बातें

  1. मां को मोटरसाइकिल पर लेने आया था बेटा
  2. पुलिस को पुल के नीचे एक चोर होने की सूचना मिली थी
  3. पुलिस ने युवक की खेतों में ले जाकर पिटाई की
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के इटावा में पुलिस की पिटाई से एक युवक की मौत हो गई है. मोबाइल चोरी के शक में पुलिसकर्मियों ने इस युवक की पिटाई की, जिससे उसकी मौत हो गई. हैरानी की बात यह है कि इस युवक की मां इटावा में ही होमगार्ड है. जिस वक्त पुलिस ने उसके बेटे को पकड़ा उस वक़्त वह युवक अपनी मां को ड्यूटी से वापस घर ले जाने के लिए आया था.तभी पुलिस के कुछ सिपाहियों ने युवक को मोबाइल चोरी के आरोप में पीटना शुरू कर दिया.

उत्तर प्रदेश के इटावा में इनामी शूटर की पुलिस मुठभेड़ में मौत, 3 पुलिसकर्मी भी घायल

टिप्पणियां
महिला होमगार्ड का कहना है वह पुलिसवालों ने बेटे के बेकसूर होने की बात कहती रही पर किसी ने उसकी नहीं सुनी और महिला होमगार्ड को पुलिस वाले थाने लेकर गए और उसके बेटे को खेत में ले जाकर उसकी जमकर पिटाई की.

UP: 'उसके पैरों में सिर्फ दर्द था'... 15 साल के बेटे की बॉडी को कंधे पर ले जाने को मजबूर पिता की दर्दनाथ व्‍यथा
एसएसपी ने कहा कि पुलिस को सूचना मिली थी कि एक मोबाइल चोर पुल के नीचे खड़ा है और 10-12 मोबाइल पास में हैं. सिपाहियों ने उसकी मां के सामने पूछताछ की और चूंकि परिवार का आरोप है इसलिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद डीएम साहब को लिखने के बाद मजिस्ट्रेट जांच के आदेश कर दिए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement