NDTV Khabar

विवेक तिवारी हत्याकांड: मृतक विवेक की पत्नी को यूपी सरकार ने दी नौकरी, मिला यह पद...

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन, महापौर संयुक्ता भाटिया, विधायक डॉ नीरज बोरा, डीएम व नगर आयुक्त की मौजूदगी में कल्पना तिवारी ने नियुक्तिपत्र पर हस्ताक्षर किए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विवेक तिवारी हत्याकांड: मृतक विवेक की पत्नी को यूपी सरकार ने दी नौकरी, मिला यह पद...

योगी सरकार ने विवेक तिवारी की पत्नी को बनाया ओएसडी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी में पिछले दिनों पुलिस की गोली से जान गंवाने वाले एप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को न्यू हैदराबाद स्थित आवास पर नगर निगम में ओएसडी पद का नियुक्तिपत्र सौंपा गया. उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन, महापौर संयुक्ता भाटिया, विधायक डॉ नीरज बोरा, डीएम व नगर आयुक्त की मौजूदगी में कल्पना तिवारी ने नियुक्तिपत्र पर हस्ताक्षर किए. लखनऊ के गोमती नगर में पिछले दिनों देर रात सिपाही प्रशांत चौधरी ने कथित तौर पर विवेक तिवारी की हत्या कर दी थी. इसके बाद सरकार ने 40 लाख रुपये का मुआवजा दिया था. उस समय कल्पना तिवारी को नगर निगम में ओएसडी बनाए जाने का आश्वासन दिया गया था.

यह भी पढ़ें: यूपी के पुलिस महकमे के लिए सोशल मीडिया पॉलिसी जारी की गई

विवेक तिवारी हत्याकांड की अभी जांच चल रही है. इस मामले में आरोपी सिपाहियों को बर्खास्त कर जेल भेजा जा चुका है. कल्पना तिवारी ने सरकार से मिल रही मदद पर संतुष्टि जाहिर की थी. उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, उपमुख्यमंत्री केशव मौर्या सहित कई मंत्री और विधायक हादसे के बाद पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे थे और उन्हें मदद का भरोसा दिलाया था. कल्पना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात की थी.

यह भी पढ़ें: 'वर्दी का गुरूर' दूर करने के लिए यूपी में सोमवार से सिपाहियों को बड़े अधिकारी देंगे ट्रेनिंग

गौरतलब है कि विवेक तिवारी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कई चौकाने वाले खुलासे हुए थे. पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार विवेक तिवारी को गोली सामने से और ऊंचाई से मारी गई क्योंकि विवेक के शरीर में गोली ऊपर से नीचे की ओर गई है.  इससे मामले में विवेक की पत्नी कल्‍पना तिवारी ने जो एफआईआर दर्ज कराई थी उसमें भी लिखा है कि सिपाही प्रशांत चौधरी ने शीशे से अपनी पिस्टल सटाकर गोली मारी. विवेक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट और पत्नी की एफआईआर देखकर लगता है कि शायद विवेक की गाड़ी के बोनट पर चढ़ के गोली मारी गई, क्योंकि गोली अगर सड़क पर खड़े होकर चलाई गई होती तो वो ऊपर से नीचे नहीं जाती.

टिप्पणियां
VIDEO: यूपी पुलिस की सोच बदलने की जरूरत.


विवेक तिवारी की पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, विवेक के चेहरे के बाई तरफ प्‍वाइंट ब्लैंक रेंज से गोली मारी गई है. इस मामले में बाद में पुलिस के सिपाही को गिरफ्तार कर लिया गया था. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement