NDTV Khabar

उत्तर-प्रदेश सरकार ने बकरीद पर खुले में कुर्बानी देने पर लगाई रोक, कहा- सोशल मीडिया पर ना डालें फोटो

सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि जो ऐसा करेंगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर-प्रदेश सरकार ने बकरीद पर खुले में कुर्बानी देने पर लगाई रोक, कहा- सोशल मीडिया पर ना डालें फोटो

योगी सरकार ने बकरीद को लेकर लिया बड़ा फैसला

लखनऊ:

यूपी सरकार ने बकरीद के मौके पर खुले में कुर्बानी करने और उसकी फोटो सोशल मीडिया पर डालने पर रोक लगा दी है. सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि जो ऐसा करेंगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी. ऊधर मुस्लिम धर्म गुरुओं ने भी बकरीद मनाने के लिए एक एडवाइजरी जारी की. इसमें इस मौके पर क्या करें और क्या न करें जैसी बातों का ब्यौरा है. मुस्लिम धर्म गुरुओं के अनुसार उन्होंने यह एडवाइजरी इस पावन मौके पर राज्य में किसी तरह से टकरार को रोकने के लिए जारी किया है. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने बकरीद के मौके पर राज्य में कानून-व्यवस्था बनी रहे इसे लेकर पुलिस व प्रशासन को सतर्क रहने को कहा है. उन्होंने कहा कि इस मौके पर सुरक्षा के पर्याप्त प्रबन्ध सुनिश्चित कर लिए जाएं. उन्होंने हर स्तर पर त्योहार को शान्तिपूर्वक सम्पन्न कराने, सुरक्षा प्रबन्ध चाक-चौबन्द रखने तथा असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगाह रखने के भी निर्देश दिये हैं.

यह भी पढ़ें: मायावती का योगी सरकार पर निशाना, बोलीं- अपने और संघ के कैडर को मुर्दा मान चुकी है BJP


सीएम योगी ने कहा कि परम्परा के विपरीत किसी भी कार्य की मंजूरी न दी जाए. मुख्यमंत्री मंगलवार शाम अपने सरकारी आवास पर ईद-उल-अज़हा त्योहार के सम्बन्ध में वीडियो कांन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अधिकारियों को निर्देशित भी किया है. उन्होंने कहा कि वर्तमान में श्रावण मास चल रहा है, जिसमें कांवड़ियों द्वारा कांवड़ यात्रा की जा रही है. ईद-उल-अज़हा के मद्देनजर सतर्क दृष्टि रखी जाए, ताकि कोई अप्रिय घटना न घटे. उन्होंने संवेदनशील जनपदों एवं स्थानों को ध्यान में रखते हुए पूर्व तैयारी एवं कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये.

यह भी पढ़ें: महाराजा सुहेलदेव के नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर भारतीय का दायित्व: सीएम योगी 

टिप्पणियां

योगी ने कहा कि बकरीद के अवसर पर सभी जनपदों में गैर-परम्परागत रूप से खुले स्थानों पर विशेषकर मिश्रित आबादी वाले या धर्मस्थलों के निकट किसी भी प्रकार के विवाद की आशंकाओं को हर हाल में रोका जाए. जहां विवाद की आशंका हो, वहां पर पहले से पुलिस पिकेट, गश्त आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए, ताकि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटित न हो. मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि ईद-उल-अज़हा के अवसर पर नमाज़ के समय, मन्दिरों में पूजा-अर्चना के समय सतर्क दृष्टि रखी जाए. उन्होंने निर्देश दिये कि प्रतिबन्धित पशुओं या गोवंशी पशुओं की कुर्बानी के सम्बन्ध में विशेष सतर्कता बरतते हुए इन्हें रोका जाए, ताकि कोई अप्रिय घटना घटित न हो.

VIDEO: राम मंदिर को लेकर यूपी के उप-मुख्यमंत्री ने दिया बड़ा बयान.

उन्होंने पूर्व में बकरीद के दौरान हुई घटनाओं की समीक्षा किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि असामाजिक तत्वों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए. इसके साथ ही, उन्होंने मोहर्रम, नवरात्रि, दुर्गा-पूजा, दशहरा आदि के सम्बन्ध में भी तैयारियों को सुनिश्चित किये जाने की बात कही. मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी उच्चाधिकारी क्षेत्रों में भ्रमण करें. अपने-अपने सम्बन्धित जनपदों में भ्रमण व थाना स्तर पर निरीक्षण भी करें. जनपद स्तर पर रेंज स्तर के पुलिस अधिकारी कैम्प करते हुए समीक्षा करें. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement