NDTV Khabar

केंद्र की तर्ज का काम करना चाहती है उत्तर प्रदेश सरकार : योगी आदित्यनाथ

तीर्थ विकास परिषद के साथ मिलकर संपूर्ण ब्रज के विकास का मिलकर संकल्प लें. पैसे की कोई कमी आड़े नहीं आएगी. बेरोजगारों का पलायन रोकेंगे. यहीं रोजगार देंगे

8 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
केंद्र की तर्ज का काम करना चाहती है उत्तर प्रदेश सरकार : योगी आदित्यनाथ

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार उसी तर्ज पर काम करना चाहती है, जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्र में कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में तुष्टिकरण की कोई बात नहीं होती. अब यहां विकास, रोजगार, उन्नति की बात होती है क्योंकि यहां दीनदयाल धाम की विचारधारा वाली सरकार है. मथुरा में पं. दीनदयाल की जन्मशती के अवसर पर नगला चंद्रभान में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा, "पर्यटन विभाग ने पहले चरण में नगला चंद्रभान को लिया है. यहां दीनदयाल जी के नाम पर कन्या डिग्री कॉलेज खुलेगा. तीर्थ विकास परिषद के साथ मिलकर संपूर्ण ब्रज के विकास का मिलकर संकल्प लें. पैसे की कोई कमी आड़े नहीं आएगी. बेरोजगारों का पलायन रोकेंगे. यहीं रोजगार देंगे."

मुख्यमंत्री ने कहा, "ब्रजदेश दुनिया के अंदर सनातन आस्था का केंद्र है. ब्रज क्षेत्र के विकास के साथ जन भावनाओं का सम्मान जरूरी है. वृंदावन, गोबर्धन, गोकुल, महाबमवन, नंदगांव को एक-एक कर विकसित करने के लिए ब्रज तीर्थ विकास बोर्ड का गठन किया गया है."

यह भी पढ़ें : किसानों के साथ योगी सरकार का ये कैसा इंसाफ, 1.5 लाख के कर्ज में से 1 पैसा किया माफ

योगी ने सरकार के छह महीने के कामकाज का ब्यौरा देते हुए कहा, "सत्ता में आते ही हमारे लिए सबसे पहला काम था उप्र से जंगल राज को खत्म करना. हमारे मंत्रियों के कठोर परिश्रम से उप्र से अपराध का खात्मा हो रहा है. पिछले छह महीने में उप्र में एक भी दंगे नहीं हुए. इससे पहले हर जिले में दंगे होते रहते थे."

उन्होंने कहा, "प्रदेश में किसानों की हालत अत्यंत खराब थी. मैं मानता हूं कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सूखे से नुकसान हुआ है. किसान के चेहरे पर खुशहाली होनी चाहिए. सिंचाई विभाग को निर्देशित किया है कि टेल तक पानी पहुंचाए. नुकसान का आकलन कर मुआवजा दिया जाए. हमने किसानों के लिए ऋण माफी का ऐलान किया, उन्हें सर्टिफिकेट तक दे दिए."
VIDEO: CM योगी आदित्यनाथ का पिछली सरकारों पर हमला

मुख्यमंत्री ने कहा कि यमुना भी नमामि गंगे योजना का हिस्सा है. इसकी भी शुद्धता की चिंता करनी चाहिए. उन्होंने माना कि मथुरा, आगरा में खारे पानी की समस्या है. उन्होंने कहा, "इसका समाधान होना जरूरी है. इसके लिए आप सब से अपील है कि पौधरोपण करें. तालाब, चेकडैम, वाटर हार्वेस्टिंग बढ़ाए और वर्षा जल को बर्बाद न होने दें. फिर देखे हम हर गांव तक मीठा जल उपलब्ध कराएंगे."(IANS)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement